Click to Download this video!

वह रात आज भी याद है

Wah raat aaj bhi yaad hai:

Hindi sex stories, antarvasna मैं अपने ऑफिस से घर लौटा ही था मेरी मम्मी ने मुझे कहा बेटा तुम फ्रेश होकर कुछ देर हमारे साथ बैठना मैंने मम्मी से कहा क्या कोई जरूरी काम है। मेरी मम्मी कहने लगी हां मुझे तुमसे कुछ बात करनी थी मैंने मम्मी से कहा ठीक है मम्मी मैं फ्रेश होकर बस दस पंद्रह मिनट में आता हूं। मैं फ्रेश होने के लिए चला गया और 10 मिनट बाद जब मैं अपनी मम्मी के साथ बैठा तो मेरी मम्मी मुझे कहने लगी मुझे तुमसे कोई जरूरी काम था। मैंने अपनी मम्मी से कहा हां मम्मी कहिए आपको क्या काम था मेरी मम्मी ने मुझे बताया हम लोग चाहते हैं तुम्हारी शादी प्रतिभा से हो मैंने मम्मी से कहा लेकिन प्रतिभा मुझसे शादी नहीं कर सकती और आप लोग इस बारे में भूल जाइए। मेरी मम्मी ने पूछा लेकिन ऐसा क्या कारण है जो तुमसे प्रतिभा शादी नहीं करेगी मैंने मम्मी से कहा आप देख लीजिए आपको जैसा ठीक लगता है आप लोग वैसे ही कीजिए।

प्रतिभा मेरे साथ कॉलेज में पढ़ती थी और जिस वक्त हम लोग कॉलेज में थे उस वक्त मेरा रिलेशन पायल के साथ था प्रतिभा को यह बात अच्छे से मालूम है और इसी वजह से प्रतिभा मुझे कभी पसंद नहीं करती थी। प्रतिभा और मेरे परिवार के बीच में बहुत ज्यादा मेलजोल है और प्रतिभा के पिताजी और मेरे पिताजी की बहुत ही अच्छी दोस्त हैं वह लोग बचपन के दोस्त हैं लेकिन मुझे नहीं लगता कि प्रतिभा कभी मेरे साथ शादी के लिए तैयार होगी। मेरा रिलेशन पायल के साथ काफी सालों तक रहा लेकिन पायल के पिताजी ने मुझसे पायल की शादी करवाने से मना कर दिया। पायल की भी शादी हो चुकी है पायल विदेश में रहती हैं उससे मेरा कोई भी संपर्क नहीं है मेरा अब पायल से ना तो कुछ संपर्क है और ना ही उससे मेरा कोई रिश्ता है लेकिन यह बात प्रतिभा को नहीं मालूम प्रतिभा को लगता है कि आज भी मैं पायल से बात करता हूं। जब कॉलेज में मेरा पहला वर्ष था और मैं नई क्लास में था हमारे क्लास में एक लड़की आई उसे देख कर मुझे अच्छा लगा और धीरे धीरे उससे मेरी दोस्ती होने लगी। जब पायल से मेरी दोस्ती होने लगी तो प्रतिभा ने मुझसे बात करना बंद कर दिया था शायद प्रतिभा के दिल में मेरे लिए कुछ था लेकिन मैंने कभी भी प्रतिभा को उस नजर से नहीं देखा और ना ही मेरे दिल में उसके लिए कोई ऐसी फीलिंग थी।

पायल और मेरा रिश्ता दिन-ब-दिन बढ़ता जा रहा था हम दोनों के बीच नज़दीकियां हो चुकी थी और यह नज़दीकियां इतनी ज्यादा हो गई कि पायल और मैं शादी करने के लिए तैयार हो गए। पायल ने जब अपने पिताजी से मेरे बारे में बात की तो शायद उसके पिताजी ने मुझसे उसकी शादी करवाने से मना कर दिया। उस वक्त हम लोगों का कॉलेज का आखरी वर्ष था मैं कुछ करता नहीं था उसके पिताजी चाहते थे कि पायल की शादी किसी डॉक्टर से हो इसलिए उसके पिताजी ने उसके लिए विदेश में एक लड़का देख लिया उसका परिवार मुंबई में ही रहता है। उन्होंने पायल का रिश्ता उससे तय कर दिया मैंने पायल को काफी समझाने की कोशिश की और कहा तुम अपने पिताजी से कहकर कुछ टाइम ले लो लेकिन पायल के हाथ में यह सब नहीं था पायल अपने परिवार वालों का दिल दुखाना नहीं चाहती थी इसलिए उसने मेरे साथ रिश्ते को खत्म करना ही बेहतर समझा। हम दोनों ने एक दूसरे से अलग होने का फैसला कर लिया अब पायल की शादी भी हो चुकी है लेकिन मैंने अभी तक शादी नहीं की। मेरे परिवार वाले प्रतिभा को बहुत पसंद करते हैं और उससे मेरी शादी करवाना चाहते हैं लेकिन मेरे दिल में कभी प्रतिभा के लिए वह फीलिंग नहीं थी क्योंकि प्रतिभा को मेरे और पायल के रिश्ते के बारे में सब कुछ पता है वह भी कभी नहीं चाहती कि मेरी शादी उससे हो। मेरा परिवार और प्रतिभा के परिवार वाले हम दोनों का रिश्ता कराना चाहते थे और आखिरकार हुआ भी ऐसा ही एक दिन प्रतिभा के पिताजी हमारे घर पर आए हुए थे और उन्होंने मुझसे पूछा क्या तुम प्रतिभा को पसंद करते हो? तुम्हारी राय उसके बारे में क्या है। मैंने प्रतिभा के पिता जी से कहा प्रतिभा एक अच्छी लड़की है मुझे प्रतिभा में ऐसी कोई कमी नहीं दिखती यदि मेरी शादी उससे होगी तो मेरा परिवार खुश रहेगा और प्रतिभा जैसी लड़की मिल पाना शायद आजकल मुश्किल ही है।

प्रतिभा के पिताजी तो मुझसे पूरी तरीके से प्रभावित थे वह मुझसे प्रतिभा का रिश्ता करवाना ही चाहते थे लेकिन प्रतिभा मुझसे शादी नहीं करना चाहती थी। उसके पिताजी ने उससे पूछा भी लेकिन उसने साफ तौर पर मना कर दिया था मुझे नहीं मालूम की प्रतिभा ने मेरे साथ शादी करने से क्यों मना किया पायल और मेरे बीच में भी अब ऐसा कोई रिश्ता नहीं है। मैं और पायल एक दूसरे से अलग हो चुके हैं ना ही मेरा पायल से मिलना होता है और ना ही उससे मैं किसी तरीके से संपर्क में हूं लेकिन प्रतिभा के दिमाग में अब भी वहीं घूम रहा है। मैंने प्रतिभा को काफी समझाने की कोशिश की लेकिन वह कुछ समझने को तैयार नहीं थी मैंने एक दिन प्रतिभा से बात की और उसे कहा देखो प्रतिभा हम दोनों के परिवार वाले एक दूसरे को काफी समय से जानते हैं और तुम्हारे पिताजी तो मेरे पिताजी के बहुत अच्छे दोस्त हैं। मैंने प्रतिभा से कहा मेरे पिताजी ने जब मुझसे कहा कि तुम प्रतिभा से बात करो तो मैंने सोचा मैं तुमसे बात करूं, तुमसे मैं अपने रिश्ते को आगे बढ़ाना चाहता हूं प्रतिभा मुझसे कहने लगी अजय मैं तुमसे शादी नहीं कर सकती क्योंकि तुम्हारे और पायल के बीच में रिश्ते थे मुझे मालूम है कि तुम दोनों एक दूसरे से कितना प्यार करते थे।

मैंने प्रतिभा से कहा देखो प्रतिभा वह सब बातें खत्म हो चुकी है और पुरानी बातों को याद करके कोई फायदा नहीं है तुम्हें भी अब आगे बढ़ना चाहिए और मुझे भी आगे बढ़ना चाहिए हम दोनों को अपने परिवार के बारे में सोचना चाहिए ना कि अपने बारे में, यदि हम दोनों अपने बारे में ही सोचेंगे तो शायद कभी भी हम दोनों एक दूसरे को स्वीकार नहीं कर पाएंगे यदि तुम अपने परिवार के बारे में सोचो और अपने पिताजी की खुशियों के बारे में सोचो तो शायद हम दोनों एक दूसरे को अपना सकते हैं। मुझे नहीं लगता कि अब इसमें कोई दिक्कत आनी चाहिए क्योंकि अब मैं एक अच्छी नौकरी करता हूं। मैंने उसे बताया पायल और मेरे रिश्ते ना होने की वजह क्या थी मेरे पास उस वक्त ना तो कोई काम था और ना ही मेरी पढ़ाई पूरी हुई थी इसीलिए तो उसके साथ मेरा रिश्ता नहीं हो पाया लेकिन आज मैं एक अच्छे पद पर हूं और तुम भी एक अच्छी जॉब कर रही हो और सबसे बड़ी बात यह है कि हमारा परिवार एक दूसरे को काफी समय से जानता है और यदि हम दोनों का रिश्ता हो जाएगा तो उन्हें भी खुशी होगी। प्रतिभा भी अपने घर में इकलौती है और मैं भी अपने घर में इकलौता हूं इसलिए उसके पिताजी और मेरे पिताजी चाहते हैं कि हम दोनों शादी कर ले। शायद मेरी बात का प्रतिभा पर कुछ असर हुआ और वह मान गई लेकिन हम दोनों को कुछ समय चाहिए था इसलिए हम दोनों ने थोड़ा समय अपने परिवार वालों से मांगा और एक दूसरे के साथ हम लोग समय बिताने लगे। प्रतिभा को भी मैं अब समझने लगा था उसे क्या चीज पसन्द थी और क्या चीज नहीं पसंद थी वह सब मैंने जान लिया था। प्रतिभा और मेरे बीच में प्यार हो चुका था हम दोनों एक दूसरे को बहुत प्यार करते थे और हम लोगों ने सगाई करने का फैसला कर लिया अब हम दोनों की सगाई हो चुकी थी। प्रतिभा और मेरी अब सगाई हो चुकी थी इसलिए हम दोनों एक दूसरे के साथ ज्यादातर समय बिताया करते थे प्रतिभा मुझे अब समझने लगी थी और उसे यह मालूम चल चुका था कि मैं उसी से प्यार करता हूं।

हम दोनों को जब भी समय मिलता तो हम दोनों कैंडल लाइट डिनर के लिए चले जाया करते थे एक रात हम दोनों कैंडल लाइट डिनर कर रहे थे उस दिन प्रतिभा को देखकर मुझे उसे किस करने का मन हुआ मैंने प्रतिभा को वहीं किस कर लिया। वह कहने लगी तुम यहां कहां मुझे किस कर रहे हो मैंने उसे कहा मुझे तुम्हें देखकर बिल्कुल भी रहा नहीं जा रहा था तो मैंने तुम्हें किस कर लिया। वह कहने लगी तुम्हें अपने आप पर कंट्रोल करना चाहिए लेकिन वह भी अपने आप पर कंट्रोल नहीं कर सकी और उस रात हम दोनों मेरे घर पर चुपके से आ गए मैंने अपने कमरे का दरवाजा बंद कर लिया। वह मुझे कहने लगी मैं कपड़े चेंज कर लेती हूं तुम अपना मुंह पिछे कर लो उसने जैसे ही अपने कपड़े उतारे तो मैंने पीछे पलट कर देखा तो वह नंगी थी उसका गोरा बदन देखकर मैं उसके पास गया और उसे अपनी बाहों में ले लिया। मैंने कुछ देर उसके स्तनों को दबाते हुए अपने मुंह में लिया वह जोश में आ गई, हम दोनों बिस्तर पर लेट गए।

मैंने उसकी चूत को बहुत देर तक चाटा जब हम दोनों बिस्तर पर लेट गए तो मैंने अपने लंड को उसकी योनि पर सटाते हुए अंदर की तरफ धकेल दिया जैसे ही मेरा मोटा लंड उसकी योनि में प्रवेश हुआ हुआ तो वह चिल्ला उठी और कहने लगी लगता है आज ही तुमने सुहागरात मना ली। मैंने देखा उसकी योनि से खून टपक रहा था मैंने उसके दोनों पैरों को कसकर पकड़ लिया और उसे तेजी से धक्के देता रहा उसने भी अपने पैरों को खोलने की कोशिश की लेकिन मैंने उसके दोनों पैरों को मैने कसकर पकड़ा हुआ था और बड़ी तेजी से उसे धक्का मार रहा था। उसे धक्के देने में मुझे बड़ा मजा आता मैं उसे लगातार तेजी से धक्के दे रहा था जैसे ही उसकी योनि में मेरा वीर्य गिरा तो मुझे बहुत अच्छा महसूस हुआ और वह भी खुश हो गई। हम दोनो एक दूसरे के हो चुके हैं और कुछ ही समय बाद हम दोनों की शादी होने वाली है लेकिन वह रात मुझे आज भी याद है हम दोनों जब भी उस रात की बात करते हैं तो मुझे बहुत अच्छा लगता है अब तो हम दोनों के बीच में एक दूसरे के साथ सेक्स करना नॉर्मल हो चुका है।


Comments are closed.


error:

Online porn video at mobile phone


जागली चुते की चुदाईchhote bhai ne chodakuwari chut hindibahu ki chudai ka kahanichut chuchibhabhi aur devar ka sexbiwi ki kahanichudai ki ki kahanichoot ki gehraikahani xxparde me rehne do incestchut phadne bale sex story in hindesex story in hindi latestsex story gujarati fontlady teacher ki chudaimami ki sex storymaa aur beti dono ko chodachachi ki chudai kahani hindichote bache ne gand maribahan ki chudai train meaunty saxhttp://www.freehindisexstories.com/bur-ki-aag-ki-ghatak-kahani/hindi maa chudai ki kahanikutti pornww antarvasnawww kamsutra sex commami chudai hindichodi ki kahanilatest gandi kahanisaur bahu ki holi freevdwnld hindi storiseme chudaimaa beta ki chudai sex storybhai behan ki chudai newnind aane ki tabletpyari didi ko chodadesi bhabhi ki chut ki chudaianterbasana hindi storyroja sex storieschodai ki khani hindisex katha in hindiआंटी की चोट मारते की स्टोरी in hindiकच्ची कली लड़की को पहली बार लंड देख बोली ये क्या है भैयाgaand chudai storyhindi saxekawari ladki ki chutchachi ki chudai ki videomaa behan ki chudai kahanisexy aunty storynew choot ki chudaihindi masala sexcall girl chudai kahaniindian xxx storieschut ki chudayibachpan me bhen ko banaya apna gulaam hindi sex storiesjija sali sexy storynew chudai ki kahani hindi mebahen ko kese chodamari auntymaa bete ki suhagratsabse khatarnak chudaihot new chudai storyxossip gaanddesi bhabhi kibehan bhai chudai kahanibhabhi chudai ki kahanichut kahani in hindidesi choot gandkuwari ladki ki chudai hindi storyneend ki tabletchudai ke ganebhabhi ki chudai sex storyindian jabardasti sexlund sexantarvadsna hindibhen ki gand marinew chutnew xxx kahanichut me mutfree chudaisuhagraat kaise manai jati haimaa ko chod kr apni patni bnaya or bahan ko randididi ki chudai ki kahanimama ki chutkolkatar boudi ke chodaindian sexy story in hindi font