पड़ोसन लड़की को अपने घर में चोदा

Padosan ladki ko apne ghar me choda:

मेरे सभी दोस्तों को मेरा नमस्कार | मैं हूँ अखिल खुराना और मैं चंडीगढ़ का रहने वाला हूँ | मैं 5 फीट 10 इंच लम्बा हूँ और रंग साफ़ है | मेरा लंड 6 इंच का है और अगर किसी को चुदवाने का शौक है तो मुझे कांटेक्ट कर सकता है | वैसे तो मैं खुद को बहुत शरीफ मानता हूँ लेकिन मेरे सभी दोस्त मुझे बहुत ही मादर चोद किस्म का इंसान समझाते हैं | मैंने बहुत सी लडकियां पटाई है और उनमे से मैंने ज्यादातर को चोदा भी है लेकिन आज की चुदाई की कहानी कुछ अलग ही है | मैंने अपने पड़ोस की रहने वाली एक लड़की को चोदा अपने घर पर | तो चलो अब मैं आपको अपनी कहानी बताता हूँ |

ये कहानी है तब की है जब मैं अपने घर कि छत पे खड़ा था तो मेरी नज़र एक लड़की पे पड़ी | वो लड़की मेरे बाजू वाले के घर की छत पर बैठी थी | जैसी ही मैंने उसको देखा तो मेरे मुंह से निकला “बाबा क्या गज़ब आइटम है” | फिर मैंने उसी के घर में रहने वाली छोटी सी बच्ची से पूछा कि बेटा ये कौन है ? तो उसने बताया ये सपना दीदी है | मुझे कुछ याद आया तो मैंने पूछा वही न जो बचपन में अपने मामा ये यहाँ पढने चली गई थी ? उसने कहा हाँ ये वही है | दरसल मैं और सपना बचपन में खूब खेल करते थे फिर वो बाहर चली गई |

अगले दिन मैं छत पर घूम रहा था तो वो भी मुझे छत पर दिखाई दी तो मैंने हाथ दिखाया | तो वो मेरे पास आई और मैंने पूछा पहचाना मुझे ? तो उसने कहा, हाँ, क्यों नहीं तुम्हे कैसे भूल सकती हूँ अक्की | फिर हम दोनों की बातें होने लगी कि क्या कर रही हो अभी और कितने दिन यहाँ रुकोगी ? तो उसने कहा अभी तो मैं दो महीने तक यहीं हूँ | मैंने कहा अच्छा मतलब मेरे पास अभी बहुत समय है | तो उसने कहा क्या ? तो मैंने कहा कुछ नहीं, तो उसने मुझे प्यारी सी स्माइल दी | मैं समझ गया कि रास्ता साफ़ है | फिर हम दोनों ऐसे ही छत पर आके बातें किया करते थे |

जब भी वो हम बातें किया करते थे तो उसकी बातों से मुझे लगता था कि लड़की चालू तो है लेकिन एक दिन जब वो मेरे घर के सामने से चलती हुई गई तो उसकी चाल देख के मैं समझ गया कि लड़की पहले चुद भी चुकी है | अब मेरे हौसले बुलंदी पर थे तो उसी दिन शाम को मैंने सपना से कहा सपना तुम मुझे बहुत अच्छी लगती हो | तो सपना बोली मैंने ऐसा कुछ सोचा नहीं तुम्हारे बारे में | तो मैंने कहा कोई बात नहीं अब सोच लो | तो उसने कहा ठीक है कल सोच के बताती हूँ | फिर अगले दिन वो छत पर आई तो मैंने उससे पूछा कि क्या सोचा तुमने ? तो उसने यार अक्की तुम मेरे अच्छे दोस्त हो | तो मैंने बीच में टोंकते हुए कहा हमे अपने रिश्ते को आगे ले जाना चाहिए | तो वो शांत हो गई तो मैं उसकी छत पर चला गया और उसको कमर से पकड़ के कहा आई लव यू सपना और उसे किस कर दिया |

वो शर्मा गई तो मैं समझ गया कि इसकी तरफ से भी हाँ है | फिर मैं और वो छत पर एक दुसरे का हाँथ पकड़ के खड़े रहते थे वो हमारी छत आपस में जुडी है ना | मैं कभी कभी मौका देख के कि कोई देख तो नहीं रहा है और उसको किस कर लिया करता था | हम दोनों रात को खाना खाके टहलने जाते थे और वहां भी मौका देख के मैं उसकी किस ले लिया करता था | मैं इतने दिनों से सोच रहा था कि ये मेरे सामने भोली बनने का नाटक क्यों कर रही है ? तो एक दिन मैंने रात को मोबाइल पर चैटिंग करते हुए उससे पूछा क्या तुमने कभी सैक्स किया है ? तो उसने कहा नहीं जानू नहीं किया कभी |

तो मैंने कहा कि मैंने किया है कई बार, लेकिन अब मैं सिर्फ तुमसे प्यार करता हूँ, पर तुम्हें उस दिन मैंने देखा तो मुझे लगा तुमने किया होगा कभी | तो उसने बताया कि मेरा एक बॉयफ्रेंड था वो मुझे रोज़ चोदता था लेकिन उसने मुझे धोखा दिया और किसी और लड़की के लिए मुझे छोड़ दिया | फिर अगले दिन हम मिले और मैंने उसका दुख दर्द बांटा | एक दिन हम दोनों छत पर आये तो उसने कहा देखो मैंने नई लैगी खरीदी | तो मैं कूद के उसकी छत पर चला गया और कहा अच्छी है लैगी | फिर मैंने उसको पकड़ा और किस करने लगा |

उसके छत पर एक कमरा था जहाँ पर सिर्फ कबाड़ रखा रहता था | तो मैं उसको वहां ले गया और उसको दबाके किस करने लगा | मैंने उसका टॉप उठाया और उसकी ब्रा नीचे करके उसके दूध चूसने लगा | वो डर के कारण कोई आवाज़ नहीं कर रही थी | फिर मैंने उसकी चूत पे हाँथ रख दिया और सहलाने लगा | वो धीरे धीरे आहाहा अह्हहः आआआ ह्ह्हहः करने लगी | तभी नीचे से किसी ने सपना को आवाज़ दी, तो जल्दी से उसने खुद को ठीक किया और नीचे भाग गई | मैं भी कमरे से बाहर आया और अपने छत पर चला गया |

अब मेरे मन में उसे चोदने का ख्याल ही घूम रहा था और मैं सोच रहा था कैसे उसको चोदा जाये | मेरा कमरा फर्स्ट फ्लोर पर है तो मैंने उसको अपने घर बुलाया | उस समय घर पर मम्मी पापा नहीं थे और सिर्फ दादी ही थी जो की नीचे वाले कमरे में आराम कर रही थी | मेरे कमरे के लिए सीढियाँ बाहर आंगन से ही हैं तो किसी को पता भी नहीं चलता कोई मेरे कमरे में आ जाये तो | वो मेरे कमरे में जैसे ही आई तो मैं उसको ऊपर से नीचे देखने लगा | वो बहुत ही सैक्सी लग रही थी और मेरा मन कर रहा था कि अभी चोद दूँ | पर मैंने खुद को कंट्रोल किया और हम दोनों जाके बिस्तर पर बैठ गए | मैंने उसकी गोद अपना सिर रखा और लेट गया |

थोड़ी देर बाद उसने मुझे झटके से किस कर दिया तो मैंने भी उसको पकड़ा और दबाके किस करने लगा | फिर मैंने उसको लिटाया और उसके ऊपर चढ़ गया और किस करे जा रहा था | फिर मैं उठा और मैंने अपना होम थिएटर चालू कर दिया और दरवाज़ा लगा दिया | मैंने होम थिएटर का वॉल्यूम थोडा ज्यादा रखा था ताकि आवाज़ बाहर तक ना जाये | मैं फिर जाके उसका टॉप उतर दिया और ब्रा खोलके दूध चूसने लगा | उसके दूध बड़े थे और निप्पल काले थे लेकिन मुझे उसके दूध चूसने में बड़ा मज़ा आ रहा था | फिर मैंने उसकी लैगी उतार दी और पैंटी को उतार के उसकी चूत को देखा तो मज़ा ही आ गया | उसकी चूत एकदम साफ़ थी और थोड़ी मोटी सी | ऐसी मोटी चूत देख के मैं उसके ऊपर टूट पड़ा | मैं उसकी चूत चाटने लगा और उसकी चूत का स्वाद मुझे बहुत पसंद आ रहा था | मैंने करीबन 10 मिनिट तक उसकी चूत चाटी और फिर जाके बिस्तर पर लेट गया | उसने मेरी पजामा उतारा और मेरी चड्डी भी | फिर उसने मेरे लंड को देख के कहा तुम्हारा तो बड़ा है और फिर मेरा लंड चूसने लगी |

जैसे वो मर लंड चूस रही थी मुझे लगा कहीं से ट्रेनिंग ली है उसने लंड चूसने में | क्योंकि अभी तक मेरा लंड ऐसे किसी ने नहीं चूसा था | मुझे बहुत मज़ा आ रहा था तो मैंने थोड़ी देर में अपना सारा मुट्ठ उसके मुंह में ही छोड़ दिया | वो भाग के बाथरूम में गई और कुल्ला करने लगी | मेरे लंड अभी भी खड़ा था तो मैं उसके पीछे बाथरूम में गया और पीछे से उसकी चूत में अपना लंड डाल दिया | उसकी एकदम से आहाहाह्ह्ह निकल गई | फिर मैंने उसको ऐसे ही थोड़ी देर वहीँ पर चोदा और फिर उसको बाहर बिस्तर पर ले आया | वो बिस्तर पर लेट गई और मैंने उसका पैर अपने कंधे पर रखा और उसकी चूत में डाल के चोदने लगा | फिर मैंने उससे पूछा कि क्या तुमने गांड मरवाई है तो उसने कहा हाँ 2-3 दिन बार | तो मैंने उसकी गांड में ऊँगली कीऔर फिर अपना लंड डाल दिया | जैसे ही मैंने अपना लंड उसकी गांड में डाला, तो उसने ज़ोर से चिल्ला दिया | तो मैंने उसका मुंह बंद किया और उसे चोदने लगा | फिर थोड़ी देर में मेरा झड गया और हम दोनों बिस्तर पर लेट गए | फिर उसने कपडे पहने और अपने घर चली गई | उसके बाद हमने कई बार चुदाई कीकभी मेरे घर पे तो कभी उसकी छत वाले कमरे में | एक बार तो मैंने उसको बाहर एक सुनसान रास्ते पे भी चोदा था | फिर कुछ दिन बाद वो अपने मामा के यहाँ चली गई लेकिन जब भी आती है हम बराबर चुदाई करते हैं |


Comments are closed.


error:

Online porn video at mobile phone


hindi sixey storymami ki burbhadi bhean ki chudai bhegache me ki sex storybhai ki gf ki chudailund chut sex storybahan ki chudai dekhixxx sax sillpak kaheni.cominhindiindian sex story bidhwa bani suhagan in hindisuhagraat ki chudai storyबहन की रसिलि चुत मारि भाई नेaatma sex videobhojpuri boor ki chudaiगांड. Antarvasnaantarvasna hindi hot storybhabi indian sexsavita ki chudaiThand me chudaischool me madam ko chodahindi sexy chudai kahanisex fuck hindi storywww new sex story comसरिता bhabhi mall umesh sexy videodesi bhabhi ki chudai kisavita bhabhi hindi storydehati maa ki chudaigao ki gori ki chudaihindi sex story pornkahani chut ki hindi mewww bur ki chudai comaunty ki choot storychudaikahaniwithimagebhai behan chudai kahani in hindinon veg hindi kahanihindi kahani behan ki chudaisasur ka lundchudai ki sexसुहागरातहवसमम्मी को पटक के चोदाbua ki larki ka jbrjsti rape antevasna xstorieswww antarvasna hindi sex storybhabhi seckaamwali auntysex story of bhabhi in hindihot chudai indianchachi ke sath chudai storyMami ko raat me choda sexy storiesteacher madam ki chudaichudam chudai storywww sex kahanijangal me mangalbaba ne maa ko chodachut chatanabest chudai ki kahaniwww sex storyrajni ki chutladkiyon ki chuchibhai ke sathsoteli sasi ko jabaradasti soda kahanibhabhi ki chut sexmaa ke chut maresexy choot ki kahanibur ki chudaisex indian story in hindihindi sexstoridudh wali bhabhiindians ex storiesbehan ne chudai bhai selund aur chut ki photoaunty ne sikhaya chodnatrain me chootholi ki chutlund hilana