नगर पालिका की मां का भोसड़ा – 2

Nagar Palika ki maa ka bhosda -2:
incest sex kahani हेल्लो दोस्तों, कैसे हैं आप लोग ? आशा करता हूँ की बकचोदी पेल रहे होंगे और लड़कियां चोद रहे होंगे हमेशा की तरह और जिनके पास नही हैं वो मुठ मार रहे होंगे | मैं राज फिर से हाजिर हूँ कहानी का अगला भाग लेकर | तो दोस्तों जैसा की मैंने पिछले भाग में बताया की कैसे मैंने मेरे दोस्त रिजवान यानि की नगर पालिका भी मां का भोसड़ा किया | उन्होंने मुझसे वादा किया वो मुझे अपनी गांड भी देंगी | वादे के मुताबिक मैं कुछ दिन बाद फिर से मौका देखकर पहुँच गया उनके घर जब नगर पालिका घर पर नही था |
बेडरूम में आकर हम दोनों नंगे हो गये और मैंने किस करना शुरू कर दिया | किस करने के साथ ही मैंने उनकी चूत में ऊँगली करना भी शुरू कर दिया | वो आह ह्ह्ह ह्ह्ह्हह ह्ह्ह हह ह ह हह ह ह ह ह हह ह ह ह ह ह आआआअ आ आआ आ हह हह ह ह्ह्ह्ह ह ह ह ह ह ह करने लगी | अब मैंने उन्हले उल्टा किआ और उनकी गांड के छेद में अपनी एक ऊँगली घुसेड़ने लगा | उनकी गांड काफी टाइट थी इसीलिए मेरी ऊँगली उसमे जा नही रही थी | मैंने पास में ही रखा तेल उठाया और उनकी गांड में ढेर सारा तेल डाल दिया | अब फिर से मैंने जब अपनी ऊँगली घुसेड़ी तो इस बार घुस गयी | वो दर्द से सिसकियाँ भर लगीं | मैंने धीरे धीरे अपनी ऊँगली को अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया | वो आह आआ आआ आह्ह हह ह्ह्ह्ह हह ह ह ह हह ह ह किये जा रही थीं | मैंने फिर थोड़ी देर बाद उन्हें गांड उअप्र करने को बोला और उनकी गांड के नीचे तकिया लगा दिया और अपना लंड घुसेड़ने की तयारी करने लगा | वो बोलीं आराम से | मैंने बोला ठीक है | अब मैंने अपना लंड पकड़ा और उसका टोपा गांड पर रखा और हल्का सा धक्का दिया | वो उछल पड़ी और उनकी आँख से आंसूं आ गये | मैंने उन्हें रोता देख अपना लंड निकाल लिया | थोड़ी देर बाद जब वो शांत हुईं तो मैंने फिर से बहुत आराम से अपना लंड उनकी गांड में डाल दिया | इस बार मैंने बस टोपा घुसाया और वहीँ रुक गया | वो धीरे धीरे अभी भी रो रही थीं | मैंने उनको किस करना चालू किआ | मेरे किस करने के बाद वो थोडा नार्मल हुईं तो मैंने फिर से एक धक्का दिया और इस बार आधा लंड घुसा दिया मैंने | वो दर्द से बिलख रही थीं | मैंने थोडा और हिम्मत करके और जोर लगाया और पूरा लंड घुसेड दिया | वो बहुत तेजसे चिल्लायीं और रोने लगीं | मैंने इस बार अपना लंड निकाला नही और वैसे ही लंड डाले डाले उन्हें किस करने लगा ताकि उन्हें थोडा नार्मल फील हो | काफी देर तक वो रोटी रहीं और फिर जब थोडा चुप हुईं तो मैंने धीरे धीरे अपना लंड उनकी गांड में अन्दर बाहर करना शुरू दिया | वो फिर से सिसकियाँ भरने लगीं और उह्ह्ह आःह्ह्ह ऊउईइ ई इ इ ई ई ई इ ई इ इ ई इ ई ऊऊ ऊ उ ऊऊ ऊ ऊऊउ आआआ ह्ह्ह ह्ह्ह्ह ह हह ह ह हह हह ह ह हह्हहः अह आहा हहहह्हहहाहा हाहा अह आहा हा हहहः ह़ा आआ आआआअ अ अ अ अ अ ऊऊउ ऊऊ ऊ ऊ ऊऊउ उ ई ई ईई ई इ इ उईईई ईई इ आराम से ऊऊ उ ऊऊऊउ उ उ ऊ उ उ इ इ ई इ ईईइ ई इ इ ई आःह्ह हह ह हह हह ह्ह्ह ह ह हह ह ह ह्ह्ह्हह उईई ई इ इ इ इ इ ई इ ईई ईईइ करने लगीं | थोड़ी देर ऐसे ही धीरे धीरे चोदने के बाद मैंने स्पीड बढ़ा दी और मेरी स्पीड के साथ ही उनकी सिसकियाँ भी तेज हो गईं | अब वो जोर से आआआ ऊऊउ ऊऊउ ऊऊईइ ई इ ईई इ ई ईई ई इ इ ई इ ईई अहाआआअ अह्हह्ह्ह्हह ह ह ह्ह्ह ह्ह्ह ह ह्ह्ह ह हह ह ह हह ह ह हह ह ह्हहा ऊऊउ ऊऊऊ उईई इ ईईई ई ईई ई ईई इ इ इ ईईइ इआ आआ आआ आआ अ आ आआअ आआ करने लगी |उनकी गांड की जोरदार चुदाई करते हुए मुझे बहुत मजा आ रहा था | वक तो इतनी टाइट गांड थी उनकी और ऊपर से उनकी मादक सिसकियाँ मुझे और जोश दिला रही थीं | मैंने थोड़ी देर बाद झड गया और उनकी गांड में ही अपना माल निकल दिया | फिर मैं उठा और खुद कपडे पहने और उन्हें भी पहनाये और फिर साथ में लेट गये |
एक दिन की बात है | मुझे नगर पालिका मिला और बोला यार बहुत दिनों से चुदाई नही की है | मेरे मन में आया की क्यूँ न एक बार थ्रीसम करें | मैंने उसे बोला की ठीक है, मैं कुछ जुगाड़ करता हूँ | मैंने उसकी मां से बात की ऐसा करते हैं, मजा आएगा | पहले तो उन्होंने सीधा मना कर दिया लेकिन मेरे मनाने के बाद वो मान गयी | नगर पालिका को मैंने बोला की जुगाड़ तो कर लिया है मैंने लेकिन लाइट ऑफ रखनी पड़ेगी | वो मां गया | मैं नगर पालिका की मां को एक दोस्त के फ्लैट में ले गया और उसके बाद नगर पालिका को भी ले आया | लाइट ऑफ थी इसीलिए नगर पालिका को कुछ पता नही चला | नगर पालिका ने उनको किस करना चालू किया और इधर मैं उनकी चूत को सहलाने लगा | नगर पालिका अपनी मां से दूध दबाने लगा और मैं इधर उसकी मन की गांड के साथ खेलने लगा | थोड़ी दे बाद नगर पालिका ने अपना लंड निकल कर पानी मां क सतह में पकड़ा दिया और उसे चूसने को कहा | नगर पालिका का लड़ मेरे लंड से छोटा था | उसकी मां अपने बेटे का लंड बड़े प्यार से चूसने लगी | नगर पालिका भी मजे से लंड चुसवा रहा था | मैंने सोचा की जब सब हो ही रहा है तो क्यूँ न खुल्लम खुल्ला हो | मैंने किसी को बिना बताये लाइट ओन कर दी | नगर पालिका पाना लंड अपनी ही मां के मुंह में देख कर चौंक गया और तुरंत लंड को उनके मुंह से निअल कर पीछे हट गया | मैंने उसको समझाया की देख, तुझे चूत चाहिए और तेरी मां को लंड | दोनों की जरूरत पूरी हो जाएगी और घरकी बात घर में रहेगी | फिर वो मान गया | अब मैंने उसकी मां से उसका लंड फिर से चूसने को बोला | उसकी मां फिर से अपने बेटे का लंड बड़े प्यार से चूसने लगी | नगर पालिका पहले तो थोडा शरमाया लेकिन फिर मजे लेने लगा | इधर वो अपनी मां से लंड चुसवा रहा था और उधर मैंने उसकी मां की गांड में अपना लंड पेल दिया | उसकी मां चिल्ला पड़ी और ऊऊ ऊउईई ई ईई इ इ इ ई इ ई ई ई ईईई इ ईईइ आआआ अह्ह्ह्हह हह ह्ह्ह हह ह्ह्ह ह ह ह ह्ह्ह्हह ह हह ह ह ऊ ऊऊ उ ऊऊउ उ ई उ ई इ इ ई इ ईईइ इ ईई इ इ ई इआआअ ह्ह्ह्ह हह ह ह्ह्ह हह ह ह्ह्ह्ह हू ऊऊ उ उ उईइ ई इ इ ई करने लगी | वो इधर मुझसे अपनी गांड चुदवा रही थीं और उधर अपने बेटे का लंड चूस रही थी | मैंने नगर पालिका को बोला की चल अब चुदाई करते हैं | वो बोला की ठीक है | नगर पालिका लेट गया और उसकी मां उसके ऊपर बैठ के अपनी चूत में उसका लंड लेने लगी | नगर पालिका को भी मजा आने लगा | मैंने अब अपना लंड उसकी मां के मुंह में दे दिया और चुस्वाने लगा | उसकी मां कभी तो आआ आआह्ह्हा ऊऊऊ ईईइ करती तो कभी मेरा लंड मुंग में लेते हुए ग्प्प्प ग्ग्गप्पप्प्प्प ग्प्पप्प्प करती | फिर मैंने अपना लंड उनके मुंह से निकाला और उनकी गांड में पेल दिया | अब उनकी बॉडी के अन्दर दो लंड थे.. एक चूत में और एक गांड में | नगर पालिका पूरा जोर लगाकर अपनी मां की चूत का भोसड़ा बनाये जा रहा था और मैं उसकी मां की गांड फाड़े जा रहा था | उसकी मां जोर जोर से आआअह्ह्ह्ह ऊऊ ऊउइ ई ई ईई ई इ ई ईई इ ई ई ईईई ईईइ इऊउईई इ इ आआआअ ह्ह्ह ह ह्ह्ह्हह ह्ह्ह्हह ऊ उ ऊऊऊऊउइ ई इ ईई ईईइ इ ई इ इ इआ आआअ आआआ ह्ह्ह्ह ह हह ह ऊ उ उ ऊ उ ऊऊऊ उ उई इ इ चोदो मुझे, जोर से चोदो.. रंडी बना दो आज.. ऊऊउ ऊऊऊ ईईईइ इ इ ईईइ इआअह्ह्ह ह्ह्ह्हह ह्ह्ह्ह ऊऊउ ईईइ ईईइ ईई ह्ह्ह्हह्ह्ह्ह कर रही थीं | हम तीनो इस जोरदार चुदाई को बहुत एन्जॉय कर रहे थे | फिर थोड़ी देर बाद नगर पालिका झड गया | अब मैं उसकी मां की गांड का भरता बनाने में लग गया | थोड़ी देर बाद मैं उसकी मां की गांड में ही झड गया |
दोस्तों, ये थी मेरी कहानी | आशा है आप लोगों को पसंद आई होगी | उस दिन के बाद भी हम तीनो लोग चुदाई करते थे और अक्सर ये चुदाई ग्रुप में होती थी |


Comments are closed.



Online porn video at mobile phone


bhabhi ki burchut and landaunty ko choda sex storybhabi swagraat m land kesha tha hindi khaniबिवी को दोसत के घर भेजा चुदाईbehan chudipictures suhagratlatest hindisex storieskuwari ladki ko chodaNew gay sex antarvasnagand mari pheli bar sambhogkatha bhai behan chudai photosasur aur bahu sexPorns sexe kamukta samdan aur bhau ko choda chudae kahane www commaa ko blackmail karke chodamaa ne beta ko chodasexy satorygaand chudaihindi sax kahniSex Karha pasi padosangujrati sexykhaniyasavita bhabhi ki desi chudaibhai bahan ka sexChutstoryholihindi sex story pdfbehan ke chudai storyhindi saxy kahaneyabeti ko choda hindi storyall chudaiantarvasna hot storydesi sex in biharhindi bhabhi devar sexmeri pehli chudaidesi chut bhabhichodna kahanichut chatai ki kahanisex indian storiesbeti aur baap ki chudai ki kahanidimple bhabhi ki chudaimkaan malkin ke saath sote huge sex storiesmarwadi chut ki chudaiहिंदी मुझे sagi दीदी और भाई की चुदाई सेक्स story मुझे khetolatest hindi sex kahanidesi chudai kahani hindi meTantrik ki badmasi sexy kahnihindi sax kahnifamily chudai story in hindiwww chodanmaa ki chudai bete se storybhanji ko chodadesi suhagraat sexhindi saxe storythamana sex combudhi sexchudai story bookmaid sex storiesHindi hiroyen की sesxy chut ओर standehati bf hindibhoomika assbehan ki chudai kahani hindibhai ko jnmdin pe gift m dudu diyechut mari kilad chutnangi bur ki chudaichut ke diwanevideo sexy dehatihindi latest sex storyantarvasna mausiSamina ki chudai kahanisheela bhabhi ki chudai