मेरा इतना मोटा लंड

Mera itna mota lund:

Antarvasna, hindi sex stories मेरे छोटे भाई की शादी नजदीक आने वाली थी घर में मैं बड़ा हूं इसलिए मेरे ऊपर सारी जिम्मेदारी थी मैंने ऑफिस से कुछ दिनों के लिए छुट्टी ले ली थी मैं एक सरकारी दफ्तर में काम करता हूं और मैं पिछले दो वर्षों से चंडीगढ़ में काम कर रहा हूं मेरा घर अंबाला में है और मैं चंडीगढ़ एक किराए के मकान में रहता हूं। सब कुछ बहुत ही अच्छे से चल रहा था मेरे भाई की शादी नजदीक आने वाली थी मैंने भी छुट्टी ले ली थी और मैं अपने घर वापस चला आया मैं जब आया तो मैंने देखा घर में कुछ भी काम हुआ नहीं था इसलिए मुझे ही भाग दौड़ करनी पड़ी। मेरा छोटा भाई विदेश में रहता है वह समय पर नही लौट पाया था लेकिन मुझे तो घर का काम संभालना ही था मेरे पड़ोस में मेरे कुछ दोस्त रहते हैं उन्हें मैंने मदद के लिए कहा तो वह लोग आ गए अब मैं सारा काम करने लगा और लगभग सारी तैयारियां कर चुका था। मैं इतना बिजी था कि मुझे कुछ पता ही नहीं चल पा रहा था मुझे अपने फोन को चार्ज करने का समय भी नहीं मिल पा रहा था इसलिए शायद ना जाने किस किस का फोन आये जा रहा था, मैंने अपनी पत्नी से कहा मेरे फोन को तुम चार्ज कर देना।

उसने फोन को चार्ज किया और जैसे ही मैंने फोन देखा तो मैंने देखा ऑफिस से मेरे फोन पर कॉल आई हुई थी मैंने अपने ऑफिस में फोन किया और फोन हमारे ऑफिस में मोहन ने उठाया मैंने मोहन से पूछा क्या तुम फोन कर रहे थे मोहन कहने लगा हां यार मैं तुम्हें फोन कर रहा था दरअसल ऑफिस में एक फ़ाइल थी वह मुझे मिल नहीं रही थी मैंने सोचा फोन करके पूछता हूं कि कहां रखी है। मैंने मोहन से कहा तुम कौन सी फाइल की बात कर रहे हो तो उसने मुझे याद दिलाया मैंने उसे कहा अरे यार वह तो मैं अपने घर पर अपने साथ ही ले आया था मेरे दिमाग से उतर गया कि वह फाइल मुझे ऑफिस में रखनी है मोहन कहने लगा क्या वह मुझे मिल सकती है। मैंने मोहन से कहा मैं तुम्हें घर का एड्रेस भेज देता हूं तुम वहां पर चले जाना और वहां पर तुम्हे अंजना भाभी मिलेंगे तुम उनसे कहना कि वह चाबी तुम्हें दे दे मैं उन्हें फोन पर बता देता हूं मोहन कहने लगा ठीक है तुम फोन कर के वहां बता दो मैं बस अभी ऑफिस से निकलता हूं।

मैंने अंजना भाभी को फोन किया और मैंने पूछा भाभी जी कैसे हो वह कहने लगी मैं तो ठीक हूं मैंने अंजना भाभी से कहा भाभी भाई साहब कहां है तो वह कहने लगे वह तो अभी कहीं काम से गए हुए हैं बस थोड़ी देर बाद ही लौटेंगे। मैंने भाभी को कहा भाभी मेरा एक ऑफिस का दोस्त आपके पास आएगा आप उसे चाबी दे दीजिएगा क्योंकि मैं दरअसल अपने भाई की शादी के चक्कर में वहां से जल्दी में आया और फ़ाइल मेरे रूम में ही रह गई तो क्या आप उसे फाइल दे देंगे। भाभी कहने लगी ठीक है मैं अभी देख लेती हूं यदि मुझे फ़ाइल मिल जाती है तो मैं तुम्हारे दोस्त को वह फाइल दे दूंगी परन्तु उसका नाम क्या है मैंने बताया भाभी उसका नाम मोहन है और आप उसे फाइल दे दीजिएगा भाभी ने कहा ठीक है मैं फाइल दे दूंगी। मैंने भाभी से पूछा क्या आप लोग शादी में नहीं आ रहे तो वह कहने लगी अभी तो कुछ दिन बचे हुए हैं मैंने तुम्हारे भाई साहब से बात की थी तो वह कह रहे थे कि हम लोगों को शादी में भी जाना है हम लोग जरुर शादी में आएंगे। अंजना भाभी के घर पर मैं पिछले एक साल से रह रहा हूं और उनके साथ मेरा बहुत ही अच्छा संबंध है उनके पति से मेरे दोस्ताना संबंध है और मुझे जब भी कोई जरूरत पड़ती है तो वह लोग हमेशा मेरे काम आते हैं। मैंने मोहन को फोन किया तो मोहन कहने लगा हां मैं बस तुम्हारे बताए पते पर पहुंचने वाला हूं मैंने मोहन को कहा मैंने वैसे तो भाभी को कह दिया है वह तुम्हे फाइल दे देंगे और तुम उनसे फाइल ले लेना जब तुम्हे फाइल मिल जाए तो तुम मुझे फोन कर देना मोहन कहने लगा ठीक है मैं तुम्हें फोन कर दूंगा। मैं भी अपने काम में बिजी हो गया और शायद मोहन ने मुझे फोन किया था लेकिन उसका फोन मैं उठा नहीं पाया मैंने जब उसे कॉल किया तो वह मुझे कहने लगा मुझे फाइल मिल गई थी फिर मैंने फोन रख दिया क्योंकि मेरे पास ज्यादा समय नहीं था मैंने उससे ज्यादा बात नहीं की।

मेरा छोटा भाई भी आ चुका था और शादी की तैयारी लगभग हो चुकी थी घर माहौल भी अच्छा था और सब कुछ बहुत ही बढ़िया चल रहा था अंजना भाभी और ललित भाई साहब भी मेरे छोटे भाई की शादी में आ गए और मैंने उनके लिए बहुत अच्छे से व्यवस्था की हुई थी ताकि उन्हें कोई परेशानी ना हो। मैंने उन दोनों के लिए होटल में रूम बुक किया हुआ था और जैसे ही वह लोग पहुंचे तो मैंने अपने मामा के लड़के से कहा आप इन्हें रूम दिखा दीजिएगा वह उन्हें वहां लेकर चला गया और वह लोग आराम से फ्रेश हुए। सब कुछ बहुत ही अच्छे से हो चुका था शादी भी बड़ी धूमधाम से हुई और कुछ दिनों तक मैं भी घर पर था क्योंकि बिजी होने के कारण मैं अपनी पत्नी को समय नहीं दे पाया था इसलिए मैंने सोचा कि क्यों ना हम लोग कहीं घूमने के लिए चलें। मैंने अपने भाई से कहा कि क्या हम लोग कुछ दिनों के लिए शिमला हो आए तो वह कहने लगा ठीक है भैया हम लोग घूम आते हैं और हम लोग वहां से कुछ दिनों के लिए शिमला चले गए मेरा भी मूड फ्रेश हो गया था क्योंकि काफी दिनों बाद हम लोग घूमने के लिए गए थे मुझे भी बहुत अच्छा लगा और मेरा छोटा भाई भी बहुत खुश था क्योकि उसकी नई नई शादी हुई थी।

हम लोगों ने वहां पर खूब एंजॉय किया और जब हम लोग शिमला से वापस लौटे तो मेरी छुट्टियां भी खत्म होने वाली थी इसलिए मैं एक दिन घर पर ही था मैंने अपनी पत्नी से कहा तुम कुछ दिनों के लिए मेरे पास आ जाना वह कहने लगी ठीक है और उसके बाद मैं वहां से चंडीगढ़ चला आया। मैं जब चंडीगढ़ चला आया तो मुझे अपने घर की बहुत याद आ रही थी क्योंकि इतने समय तो घर में रहने के बाद मेरा मन बिल्कुल भी चंडीगढ़ में नहीं लग रहा था मैं हमेशा की तरह ऑफिस जाया करता और शाम को लौटता था। एक दिन मैं ऑफिस से लौटा तो ललित भाई साहब और अंजना भाभी घर पर ही थे वह मुझे कहने लगे तुमने हमारे लिए बहुत अच्छे से व्यवस्था की थी और शादी भी बहुत अच्छी हुई। मैंने ललित भाई साहब से कहा भाई साहब हमारे घर में शादी थी और सारी जिम्मेदारी मेरे कंधों पर ही थी क्योंकि पिताजी का देहांत काफी समय पहले हो चुका है और मैं नहीं चाहता था कि शादी में कोई भी कमी रह जाए इसलिए मैंने शादी धूमधाम से करवाई और जितने भी मेहमान हमारे घर पर आए थे वह सब मुझे कह रहे थे कि तुमने बहुत ही समझदारी से काम निभाया मुझे भी खुशी हुई क्योंकि मेरे छोटे भाई की अब शादी हो चुकी है और मेरी मां के चेहरे पर भी एक अलग ही खुशी थी। ललित भाई साहब कहने लगे तुम बिल्कुल सही कह रहे हो मुझे भी कई बार अपने पिताजी की कमी खलती है और जब मैं सोचता हूं काश वह होते तो कितना अच्छा रहता लेकिन यह सब संभव नहीं हो सकता, कुछ देर तक हम लोग साथ में बैठे रहे उसके बाद मैं अपने रूम में चला गया। मुझे नहीं मालूम था कि मोहन ने अंजना भाभी के साथ में सेक्स किया था उसने जब मुझे इस बारे में बताया तो मैं पूरी तरीके से चौक गया।

मैंने उसकी बातों पर यकीन नहीं किया लेकिन जब मैंने अंजना भाभी से अकेले में यह बात पूछी तो वह शर्माने लगी और उन्हें देखकर मेरा मन मचलने लगा मैंने उनके साथ सेक्स करने की सोच ली थी और वह मुझे एक दिन घर में अकेले मिली। मैंने अंजना भाभी को अपनी बाहों में ले लिया उनकी गांड को मैं अपने हाथ से दबाने लगा मैंने जब उनके होठों को अपने होठों में लेकर चूसा तो उनको बड़ा अच्छा लगा वह मेरे होठों को किस करने लगी। मैंने जब अपने लंड को बाहर निकाला तो वह उसे अपने मुंह में लेकर अच्छे से चूसने लगी उन्होंने मेरे लंड को अपने गले तक ले लिया था और काफी देर तक मेरे लंड का उन्होंने रसपान किया। मैंने जब उनके स्तनों को चूसा तो मुझे भी बहुत मजा आया मैंने उन्हें कहा आपने मेरे दोस्त के साथ बड़े अच्छे से सेक्स किया था उसने मुझे सब कुछ बता दिया। जब मैंने उनकी टाइट चूत के अंदर अपने लंड को डाला तो वह चिल्ला पड़ी और अपने दोनों पैरों को खोलने लगी उनकी सिसकियां मेरे अंदर और भी ज्यादा जोश पैदा कर देती। मैं तेजी से उन्हें धक्के देता मेरे धक्के इतने तेज थे कि उनकी चूतड़ों का रंग लाल होने लगा था।

मैंने कुछ देर उनको अपने नीचे लेटा कर चोदा जब मैंने उन्हें अपने ऊपर से आने को कहा तो वह मेरे ऊपर आ गई और उन्होंने मेरे लंड को अपनी योनि में लिया। वह मेरे लंड को बड़े अच्छे से अपनी योनि के अंदर ले रही थी मैं उन्हें बड़ी तेजी से धक्के मार रहा था उनकी बड़ी चूतडे मेरे लंड से टकराकर धराशाई हो जाती मैं भी उनके साथ काफी देर तक ऐसा ही करता रहा जब मेरी इच्छा पूरी हो गई तो वह कहने लगी मुझे तो पता ही नहीं था कि तुम्हारा लंड इतना मोटा है यदि यह मुझे मालूम होता तो मैं कब का तुम्हारा लंड अपनी चूत मे ले चुकी होती। मैंने उन्हें कहा मुझे आपने बताया कि आप सेक्स की इतनी ज्यादा भूखी हैं और आपके साथ आज मुझे सेक्स करने में बड़ा मजा आया। उस दिन अंजना भाभी के साथ सेक्स करना मुझे बहुत अच्छा लगा उसके बाद मैंने उनकी एक बार गांड मारी। उनकी बड़ी गांड देखकर मैं अपने आपको रोक नहीं पाता और उनकी तरफ खिंचा चला जाता हूं मैं जब भी उनकी गांड मारता हूं तो मुझे बहुत मजा आता है।


Comments are closed.


error:

Online porn video at mobile phone


kahani chodne ki hindi mebathroom me maa ko chodaantarvasna sex storykamwali ke sath sexchudai story in bhojpuririnki ki chudaizabardasti chod diyaaunty ke sath sex storylarki ne larki ko chodamaa bete ki sex kahani hindiशादी के पहले चोदाchudai sasur sebhabhi ki chudai kahani hindi mehindi hot hot storysex bandhobi storybarish sexbholi ladki ki chudaibaap aur beti ki chudai kahanihindi story bhabhi ko chodakamukta com hindi storygori gand ki chudaishamale ma ki sex kahaninangi chut ki chudaibudiya ko chodanayi dulhan ki chudaidesi hindi sexy bfchut dekhidesi kahani maa betaदेबर भाभी की सेकसी बीडियो ओर काहनियाmastram magazineगे कहानियाँbap beti ki chodai ki kahanimota lund ki photohindi sexsiland me chutgay porn story in hindipaise dekar chudaibhai bahan kisagi behan ko chodafree hindi sex kahaniHindi Tyson teacher ke chidaigand me chudaiaunty ki chudai hot storyhendi sexy storymalkin sexsaxy storiseshemale ko chodgne ki kahanisexy kahani chudai kimeri suhagraatbhabhi ki kali chutgher ki chudaichut ke dhakkanhindi sex coapni maa ko kaise chodubhai ki sali ko chodasix kahaniyahindi sexi kahnichut malishstudent ne choda storygand faad chudaiफौलादी एक sex videoskaki ki chudaihindi me bur ki chudaikamukta hindi kahanihindi sexi kahniyaantarvasa commaa bete ki hindi sexy kahanimuslim chudai kahanimousi ki chudai ki khanipyasi naukranigand maraiBachpan gand ladka khel Hindi storyfree sex hindi vasna storiesgay sex in indorebehan chudai story hindinew desi chuthindi chudai with photonew bhabhi ki chudai ki kahaniहिन्दी सेकसी लडकी वडीया उपना www.comrandi ki chudai story in hindidesi kahani with photochod dalomaa bete ki hindi sex kahanichutkistorihindeladki ki gandसेक्स स्टोरी अन्तर्वासनाshriya sex storiesbhabhi ki chut story