मैं और मेरी प्यारी दीदी भाग – १९

मुझे शिप्रा दीदी की वाइट कलर की ब्रा दिखाई दी मैंने कहा ” दीदी कुछ दिख नहीं रहा ढंग से करो ना चुन्नी हटाओ ना ” शिप्रा दीदी ने यहाँ वहां देखा आस पास कोई नहीं था और उन्होंने मेरे सामने झुकते हुए अपने कुर्ते का गला अपने दोनों हाथों से खींच कर चौड़ा कर दिया मुझे तो मजा आ गया मेरी आँखों के सामने शिप्रा दीदी के गोरे मोटे बोबे थे वाइट ब्रा में शिप्रा दीदी ऐसे ही थोड़ी देर तक झुकी रही और मैं उनके बोबे निहारता रहा फिर वो सीधी हो गयी मैंने कहा “दीदी आपके बोबे कितने प्यारे है, और दिखाओ ना ब्रा हटा के ” शिप्रा दीदी मुस्कुराई और एक एक करके अपने दोनों हाथ अपने कुर्ते के गले में डाले और फिर मेरे सामने अपने कुर्ते का गला चौड़ा करके वापस झुकी इस बार शिप्रा दीदी के नंगे बोबे मेरी आँखों के सामने थे उनके गोर मोटे बोबे उनके कुर्ते के अंदर नंगे थे उनके दोनों निप्पल खड़े हुए थे
मैंने जल्दी से उनके कुर्ते के गले में अपना हाथ डाल दिया और उनके नंगे बोबे दबाने लगा मेरे एसा करते ही वो जल्दी से पीछे हो गयी मैंने उन्हें पकड़ा और उन्हें किस करने लगा और किस करते करते मैंने अपना हाथ नीचे से उनके कुर्ते में डाल दिया और उनके नंगे बोबे दबाने लगा फिर मै उनकी गर्दन पे स्मूच करने लगा मैंने इधर उधर देखा फिर नीचे झुका और उनका कुरता थोडा ऊपर कर दिया उनके दोनों नंगे बोबे बाहर निकाले फिर मैं उनके बोबे चूसने लगा शिप्रा दीदी मेरे बालों में अपना हाथ फेरने लगी और इधर उधर देख के ध्यान रखने लगी की कोई देख तो नहीं रहा मैं बारी बारी से उनके बोबे दबाने लगा उन्हें चूसने लगा तभी शिप्रा दीदी ने कहा ” सोनू जल्दी उठ कोई आ रहा है “
मैं फटाफट सीधा हुआ शिप्रा दीदी ने अपना कुरता नीचे किया और चुन्नी सही से डाल ली अब मुझे मेरे लंड में बहुत दर्द हो रहा था मैंने शिप्रा दीदी से कहा “दीदी मुझे बहुत पैन हो रहा है ” शिप्रा दीदी ने कहा “कहाँ ” मैंने अपने लंड की तरफ इशारा करते हुए कहा की ” यहाँ ” तो शिप्रा दीदी बोली “वो तो होगा ही इतनी देर से मुझसे छेड़ छाड़ जो कर रहा है ” मैंने कहा “दीदी आप करो ना कुछ ” शिप्रा दीदी बोली “मैं क्या करू वो भी यहाँ ? ” मैंने अपनी नजर घुमाई तो एक पुराना सा खंडर नजर आया मैंने इशारा करते हुए बोल चलो दीदी वहां चलते है हम दोनों उठ के वहां चल दिए मैंने देखा अंदर कोई नहीं था और बाहर भी कोई नहीं था मैंने शिप्रा दीदी को पकड़ लिया और उन्हें किस करना शुरू कर दिया वो भी मुझे किस करने लगी मैंने उनका हाथ ले जाके अपने लंड पे रख दिया वो जीन्स पे से मेरे लंड को सहलाने लगी मैं भी अपना हाथ शिप्रा दीदी की सलवार पे से उनकी चूत पे फेरने लगा हम दोनों एक दुसरे के होंठ चूस रहे थे फिर मैंने अपने एक हाथ से शिप्रा की सलवार का नाडा खोल दिया शिप्रा दीदी की सलवार नीचे गिर गयी अब मैं शिप्रा दीदी की पेंटी पे से उनकी चूत पे हाथ फेर रहा था वो मुझे पागलों की तरह चूम रही थी फिर मैंने अपना हाथ उनकी पेंटी में डाल दिया और उनकी चिकनी चूत पे अपना हाथ फेरने लगा शिप्रा दीदी की पेंटी बहुत ही गीली थी
मैंने उनके होंठ छोड़े और उनकी चूत पे अपना हाथ फेरते हुए बोला “अरे दीदी आप तो बहुत ज्यादा एक्ससाईटेड हो ” तो उन्होंने कहा की “हाँ तो नहीं होउंगी क्या इतने देर से मेरे पूरे बदन पे अपना हाथ घुमा रहा है, लेकिन सोनू जो भी करना है जल्दी कर यार ये जगह सेफ नहीं है ” मैंने कहा ” हाँ दीदी ” और मैंने उनकी गर्दन पे स्मूच करने लगा फिर उनकी गर्दन पे स्मूच करते करते मैं उनके कान की तरफ गया और उनकी चूत पे हाथ फेरते हुए उनके कान पे अपने होंठ फेरने लगा फिर मैंने उनके कान में अपनी जीभ डाल दी शिप्रा दीदी की सिसकियाँ निकलनी शुरू हो गयी थी फिर मैं उनके बदन पे किस करते हुए नीचे की तरफ आया और उनका कुरता उनके गले तक ऊपर कर दिया फिर उनकी ब्रा पे से उनके बोबे दबाये उनपे स्मूच किया उन्हें किस किया फिर उनकी ब्रा भी ऊपर कर दी और उनके दोनों नंगे बोबे दबाने लगा और उन्हें चूसने लगा
फिर मै थोड़ी देर रुक और देखा की शिप्रा दीदी की आँखें बंद कुर्ता और ब्रा दोनों ऊपर सलवार नीचे टांगों पे गिरी हुई क्रीम कलर की पेंटी में मेरा हाथ बहुत ही सेक्सी सीन था फिर मैंने उनकी पेंटी भी नीचे कर दी अब शिप्रा दीदी मेरे सामने बिलकुल नंगी थी मैंने पहले उनकी चूत के ऊपर से अपनी जीभ फेरी फिर उनकी चूत की दोनों स्किन को अलग किया और उसके अंदर अपनी जीभ डाल दी शिप्रा दीदी ने सिसकी ली “आआआह्ह्ह्ह्ह्ह ” फिर वो मेरे बालों में अपनी उंगलिया फेरने लगी और आवाज आई ” म्म्म्म्म्म्म्म्म्मम्मम्म ” मुझे पता चल चूका था की शिप्रा दीदी को मजा आने लग गया है मैं जल्दी जल्दी अपनी जीभ के टिप से उन की चूत को सहलाने लगा वो और लम्बी लम्बी सिसकियाँ लेने लगी मैं अपनी पूरी जीभ उनकी चूत में फेरने लगा उनके दोनों हाथ मेरे बालों से मेरे कंधे पे आ गये और वो मुझे धक्का देने लगी मैं समझ गया किया शिप्रा दीदी झरने वाली है मैं और जल्दी जल्दी उनकी पूरी चूत में अपनी जीभ घुमाने लगा और अपनी एक ऊँगली से उनकी चूत के होल को जल्दी जल्दी सहलाने लगा और तभी शिप्रा दीदी के मुह से एक लम्बी सिसकी निकली “आआआआआआह्ह्ह्ह्ह्हह्ह्ह्ह्ह्हह्ह्ह्ह्ह्ह,,,,” और उनकी चूत ने बहुत सारा पानी छोड़ दिया जिसे मैंने अपनी जीभ से साफ़ कर दिया
उन्होंने मुझे ऊपर उठाया और मुझे एक लम्बा किस किया फिर उन्होंने अपनी पेंटी ऊपर की अपनी सलवार पहनी अपनी ब्रा नीचे की फिर अपना कुर्ता नीचे किया चुन्नी सही की फिर बोली “एक बार देख ले की आस पास कोई है तो नहीं ” मैंने चेक किया वहां कोई भी नहीं था फिर मैं उनके पास गया वो मेरे आँखों में देखते हुए नीचे जाने लगी और फिर मेरी जींस का बेल्ट खोला मेरी जींस नीचे की फिर मेरी अंडर वियर पे से अपना हाथ मेरे खड़े हुए लंड पे फेरा फिर मेरी अंडर वियर भी नीचे कर दी मेरा नंगा खड़ा हुआ लंड उनकी आँखों के सामने आ गया वो उसे अपने हाथ से सहलाती हुई मेरी आँखों में देखते हुए बोली “ला इसका सारा दर्द दूर कर दू ” और ये कहते हुए उन्होंने मेरा लंड अपने मुह में ले लिया मेरी आँखें बंद हो गयी और मेरे मुह से सिसकी निकल गयी “आह्ह्ह्ह्ह ” शिप्रा दीदी मेरा लंड चूसने लगी और मैं उनके बालों में हाथ फेरना लगा वो मेरा लंड अपने मुह से अंदर बाहर करने लगी मुझे बहुत मजा आ रहा था कभी वो मेरा लंड को अपने हाथ से हिलाती फिर उसे मुह में लेती कभी लंड के टोपे को चूसती कभी पूरा लंड मुह में ले लेती इस तरह शिप्रा दीदी लंड चूस रही थी और मुझे बहुत मजा आ रहा था
मैंने उनके कुर्ते के गले में से अपना हाथ अंदर डाल दिया और उनकी ब्रा के अंदर हाथ डालके उनके बोबे दबाने लगा अब शिप्रा दीदी जल्दी जल्दी मेरा लंड अपने हाथ से हिलाने लगी फिर अपने मुह में लेके उसे चूसने लगी मेरा मुट निकलने ही वाला था की तभी शिप्रा दीदी मेरे लंड के टोपे को अपने होंठो से जल्दी जल्दी अंदर बाहर करने लगी मैं भी उनके बोबे को जल्दी जल्दी दबाने लगा और तभी मेरा मुट निकल गया मेरा सारा मुट शिप्रा दीदी के मुह में था जिसे वो निगल गयी लेकिन फिर भी मेरे लंड को चूस रही थी और मेरी आँखों में देख रही थी मैंने उन्हें ऊपर उठाया और एक लम्बा सा किस किया और हम दोनों ने एक दुसरे को आइ लव यू बोला फिर हम अलग हुए मैंने अपना लंड अंदर किया चेन बंद की शिप्रा दीदी ने भी अपने बाल और कपडे ठीक किये मैंने देखा बाहर कोई नहीं था हम दोनों बाहर निकले और स्कूटी की तरफ चल पड़े चलते चलते शिप्रा दीदी ने मुझसे पूछा ” क्यों मजा आया ” मैंने कहा ” हां दीदी और आपको ” उन्होंने कहा ” हाँ मुझे भी “…………
हम दोनों बाहर निकले और स्कूटी की तरफ चल पड़े चलते चलते शिप्रा दीदी ने मुझसे पूछा ” क्यों मजा आया ” मैंने कहा ” हां दीदी और आपको ” उन्होंने कहा ” हाँ मुझे भी अब आगे – शिप्रा दीदी ने स्कूटी स्टार्ट की और मैं उनके पीछे बैठ गया फिर हम दोनों घर की तरफ चल पड़े थोड़ी देर बाद हम घर पहुंचे हमें देख के मम्मी ने शिप्रा दीदी से कहा “आगयी शिप्रा बेटा मिल गयी बुक्स ” शिप्रा दीदी ने कहा “हाँ मौसी मिल गयी ” फिर मम्मी ने कहा “अच्छा शिप्रा चल कपडे चेंज करके मेरी हेल्प करा दे ” शिप्रा दीदी ने कहा ” हाँ मौसी ” और शिप्रा दीदी हमारे रूम में चली गयी
प्रीती दीदी दुसरे रूम में उनकी फ्रेंड मिनी के साथ पढाई कर रही थी प्रीती दीदी ने रेड कलर का ढीला सा टॉप और कैपरी पेहेन राखी थी मुझे देख के प्रीती दीदी बोली “आगया मार्किट से ” मैंने कहा “हाँ दीदी आप लोग क्या कर रहे हो ” प्रीती दीदी बोली “वही जो तू कभी नहीं करता पढाई ” और जोर जोर से हसने लगी हँसते हुए प्रीती दीदी बहुत अच्छी लग रही थी मैं भी उन लोगों के पास उनके रूम में बैठ गया शिप्रा दीदी और उनकी फ्रेंड बेड पे बैठ के पढ़ रही थी तभी मम्मी ने आवाज दी “प्रीती ले ये कोल्ड ड्रिंक लेजा तेरे सोनू और मिनी के लिए “
प्रीती दीदी कोल्ड ड्रिंक लेने चली गयी थोड़ी देर बाद वो हाथ में कोल्ड ड्रिंक की ट्रे लेके आई और जेसे ही प्रीती दीदी ट्रे को बेड पे रखने के लिए झुकी उनके टॉप का गला लटक गया और मुझे ब्रा में क़ैद प्रीती दीदी के बोबे नजर आ गए गोरे गोरे मोटे मोटे प्रीती दीदी के बोबे बड़े अच्छे लग रहे थे प्रीती दीदी ने आज ब्लैक कलर की ब्रा पेहेन रखी थी ट्रे बेड पे रख के प्रीती दीदी भी बेड पे बैठ गयी और बातें करने लगी लेकिन मेरी नजर तो प्रीती दीदी के बोबो पे से हट ही नहीं रही थी तभी शिप्रा दीदी आ गयी और बोली “और प्रीती हो गयी पड़ी कम्पलीट ” प्रीती दीदी ने कहा ” हाँ दीदी आपकी बुक्स मिल गयी ” शिप्रा दीदी ने कहा “हाँ मिल गयी और बता और कुछ प्लान है क्या आज का ” प्रीती दीदी ने कहा “नहीं दीदी क्यों” तो शिप्रा दीदी ने कहा “तो चल ना शाम को मूवी चलते है वेसे भी बोर हो रहे है घर पे तो ” प्रीती दीदी ने कहा “हाँ अच्छा है वेसे भी कोई मूवी नहीं देखि काफी टाइम से ” शिप्रा दीदी ने कहा ” तो ठीक है तू, मैं और सोनू तीनो आज मूवी चलत है मैं मौसी से पूछ लेती हूं “
शिप्रा दीदी ने मम्मी को बुलाया मम्मी रूम में आई तो शिप्रा दीदी ने मूवी के लिए पूछा मम्मी ने कहा “नहीं रात वाले शो में तो नहीं जाने दूंगी अगर अभी दिन वाले शो में जाना है तो चले जाओ ” शिप्रा दीदी ने कहा “ठीक है मौसी चल प्रीती जल्दी से तैयार हो जा अभी निकलते है नहीं तो शो मिस हो जायेगा ” और शिप्रा दीदी और प्रीती दीदी तैयार होने चले गए मैं मन ही मन बहुत खुश हो रहा था और सोचने लगा की आज थिएटर में अँधेरे में प्रीती दीदी के कैसे मजे लिए जाए तभी गेट खुला और सामने प्रीती दीदी खड़ी थी बड़ी सेक्सी लग रही थी ब्लैक कलर की जीन्स डार्क मेहरून कलर का स्लीवलेस टॉप खुले बाल गले में सोने की चेन बहुत ही सेक्सी लग रही थी उनकी चिपकी हुई जीन्स में से उनकी गांड बहार निकल रही थी मेरी नजर तो उनके टॉप में से बाहर निकले हुए उनके बोबो पर थी फिर शिप्रा दीदी तैयार हो कर आई वो भी उतनी ही सेक्सी लग रही थी ब्लू जीन्स ब्लैक टॉप खुले बाल उन पर चश्मा दोनों ही क़यामत ढा रही थी थोड़ी देर में हम लोग मूवी के लिए निकल गए
आज मुझे शिप्रा दीदी को देखने में इतना मजा नहीं आ रहा था जितना प्रीती दीदी को देख के आ रहा था थोड़ी देर में हम सब थिएटर पहुंचे सब लोग घूर घूर के शिप्रा और प्रीती दीदी को देख रहे थे आखिर दोनों लग ही इतनी सेक्सी रही थी थिएटर में काफी भीड़ थी शिप्रा दीदी टिकेट लेने लिए लाइन में लग गयी और मैं और प्रीती दीदी उनका वेट करने लगे थोड़ी देर बाद शिप्रा दीदी टिकेट लेके के आई और हम लोग हॉल में जाने लगे आगे शिप्रा दीदी थी फिर प्रीती दीदी और उनके पीछे मैं हॉल में भीड़ थी तो मैं प्रीती दीदी से चिपक चिपक के चल रहा था उनके बदन की खुशबु से मैं मदहोश होता जा रहा था मैं उनसे इतना चिपका हुआ था की मेरा लंड उनकी गांड पे टच हो रहा था जिस से वो खड़ा हो गया जेसे ही पीछे से थोडा धक्का आता मैं अपना लंड प्रीती दीदी की गांड पे फेर देता थोड़ी देर बाद हमें सीट्स मिल गयी मैं बीच में बैठ गया शिप्रा दीदी मेरे राईट में बैठ गयी और प्रीती दीदी मेरे लेफ्ट में थोड़ी देर में मूवी स्टार्ट हो गयी
लेकिन मेरा ध्यान मूवी में नहीं प्रीती दीदी के बदन को इस अँधेरे में कैसे छुहा जाये उस पे था हॉल में अँधेरा था मैंने अपना एक हाथ शिप्रा दीदी की झांग पे रख दिया शिप्रा दीदी ने मेरे कान में कहा “हो गया चालू तेरा शो “मैंने कहा ” हाँ दीदी “और मैं अपना हाथ उनकी झांग पे फेरने लगा उन्होंने भी अपना हाथ मेरी झांग पे रख दिया और फेरते फेरते मेरे लंड की तरफ आने लगी मैं भी अपना हाथ फेरते फेरते उनकी चूत की तरफ लेके जाने लगा शिप्रा दीदी की सांसें तेज होने लगी उन्होंने अपने हाथ से मेरा खड़ा हुआ लंड पकड़ लिया और जीन्स पे से उस पे हाथ फेरने लगी मैंने अपनी आँखें बंद करली और सोचने लगा की प्रीती दीदी ही मेरे लंड पे अपना हाथ फेर रही है फिर मैं अपना हाथ शिप्रा दीदी की जीन्स पे से उनकी चूत पे फेरने लगा फिर मैं अपना हाथ और ऊपर लेके गया और उनके ब्लैक टॉप पे से उनके बोबे दबाने लगा


Comments are closed.



Online porn video at mobile phone


randi chudai hindixxx khani bhai bhn toylat hindedamad aur saas ki chudaiindian sex story in hindi languagehindi sax storyesfree chudai ki kahaniya in hindisex in antynew marathi sex stories in marathiकालू चोदी वीडियोsex on suhagratnew desi chudai ki kahanichachi ko choda hindianjali bhabhi ki chudaihindi sex stolarke ki chudaiholi me bhabhi ki chudai ki kahanisex story hindustory of sexy hindihindi chudai kathachut ki kahani hindi meinठनड मे चुत चूदाई ओर बुबस के दुध पिने का मजा रियल कहानियाsasur se chudaichut antarvasnahindi gandwww desi choot10 saal ladki kamvasnasaas ki chodailand chut ki hindi storybur land sexmast ki chudaijyoti ki chutmausi ki chudaigay ki chudaiबॉयफ्रेंड का चोदू दोस्तbhabhi ko choda jamkarnew bhabi sexmeri chikni chutMllu cut chudai video khani sexi daelimont pemeri chut chudai ki kahaniwww devar bhabhi ki chudai comxxxsexy stories gaad cuddaihindi font me chudai kahaniwww badmasty comaurat ki gandchudai story websitesali ki chut ki kahaniसेक्स कथा मराठी 2003Best kahani Antarvasna 2019desi ssexsaxi muvidoctor ne gand marichudai kurta chunni nahi pehani thibehan ko patayaladke ki gand marimummy ki chudai hindi storygujrati sexi kahanima antarvasnachikni chut sex videochachi ki chut in hindiantarvasna sex storymastram ki chudai ki kahani hindiचाची की चुत पयास बुजाई अपने लडं सेsasurbahu pornstoryinhindichachi ke sath sex storyhind sexy storyhindi saxy filmchudai ki kahani in hindi pdfsome sex story in hindiमाँ सुमन के बुर चोदा खेत मेbhai behan ki storyaunty kathaantarvasna mobichudai ki anokhi kahaniसेकसी कहानी चुत चुदाई की दोसत की घरवाली का नाम पूजाantarvasna hindi medehati aurat sexland & chutmeri beti ko chodasexy chudai aunty