Click to Download this video!

फिल्म में काम करने के चक्कर में सर से चुदवाया

Film me kaam karne ke chakkar me sir se chudwaya:

हैल्लो दोस्तों मेरा नाम है सुरभि चौबे और मैं पुणे की रहने वाली हूँ | मैंने बी.कॉम की पढाई की है लेकिन मेरा रुझान सिर्फ एक्टिंग में था | तो मैं पुणे में ही मॉडलिंग करती थी और फिल्मों के लिए कोशिश करती रहती थी | मैं दिखने में बहुत सुन्दर हूँ और मुझे लगता है मेरा हुस्न ही मेरा दुश्मन है | मैं जहाँ भी जाती हूँ लोग मेरे पीछे पड़ जाते है मुझे पटाने के लिए | लेकिन मेरा सपना तो सिर्फ बॉलीवुड है और मैं एक हीरोइन बनना चाहती हूँ | मैंने बहुत से ऑडिशन दिए है लेकिन एक ऑडिशन जिसमे मुझे अपनी इज्जात से हाँथ धोना पड़ा लेकिन मुझे फायदा भी हुआ | तो ये है मेरे ज़िन्दगी का एक हिस्सा जो मैं आप सभी को पेश करती हूँ |

ये बात तब की है जब मैं एक शो में रैम्प पे चल रही थी तभी मेरी नज़र एक आदमी पे पड़ी | वो मेरी तरफ ऊँगली दिखा के अपने दोस्त से कुछ कह रहा था | फिर मैं वापस चली गई और मैंने सोचा कि मेरे साथ तो ऐसा होता ही रहता है इसलिए मैंने ज्यादा ध्यान नहीं दिया | फिर कुछ दिन बाद मुझे एक आदमी का फ़ोन आया और उसने कहा कि क्या आप सुरभि बोल रही हैं ? तो मैंने उससे कहा हाँ लेकिन आप कौन ? तो उसने मुझे अपना नाम विक्की बताया और कहा कि मैडम हमारे सर आपसे मिलना चाहते हैं | मैंने कहा कौन सर ? उसने कहा हमारे सर का नाम है विनीत राणा और वो एक डायरेक्टर है | तो मैं खुश हो गई और मैंने उससे पूछा कि क्या काम है सर को मुझसे ? तो उसने कहा वो आप हमारे ऑफिस आ जाये, सर आपको वहीँ सब बता देंगे | तो मैंने ऑफिस का पता लिया और अगले दिन ही ऑफिस पहुँच गई | मैं अन्दर गई और पूछा कि विनीत सर है, तो उन्होंने कहा कि अभी थोड़ी देर में आते ही होंगे आप बाहर इंतज़ार करिए |

मैं एक घंटे तक इंतज़ार किया और फिर सर आ गए और सर जैसे ही मेरे सामने आये तो मुझे देखने लगे और फिर नज़रें चुरा के अन्दर चले गए | फिर आधे घंटे के बाद एक लड़के ने मुझसे आके कहा कि क्या आप सुरभि जी है ? तो मैंने कहा हाँ | तो उसने कहा सर आपको अन्दर बुला रहे है | मैं जल्दी से उठ के अन्दर गई और दरवाज़ा खोलके के सर पूछा सर क्या मैं अन्दर आ सकती हूँ | उन्होंने ने मेरी तरफ देखा और मुस्कुराते हुए कहा हाँ आओ सुरभि | मैं अन्दर गई और जाके कुर्सी पे बैठ गई | तो उन्होंने मुझ से कहा कि मैं एक पिक्चर बना रहा हूँ और तुम मुझे उस रोल के लिए सही लग रही हो | तो सर ने मुझ से पूछा कि क्या तुम्हें एक्टिंग आती है ? तो मैंने कहा हाँ सर आती है |

तो सर ने मुझे एक सिचुएशन दी और कहा इसके ऊपर मुझे कुछ एक्टिंग करके दिखाओ | तो मैंने कहा सर मुझे 5 मिनिट चाहिए सोचने के लिए तो सर ने कहा ठीक है | मैंने थोड़ी देर तक सोचा और एक्टिंग करने लगी | तो सर ने कुछ गलतियाँ बताई और कहा कल इसको ठीक करके आना | मैंने रात भर प्रैक्टिस की और अगले दिन जाके उनको एक्टिंग करके दिखाई | तो सर ने कहा अच्छा किया तुमने, अब ये लो और ये कुछ संवाद है इन्हें पुरे इमोशन के साथ पढो | मैं उसे पढने लगी तभी सर पीछे से आये और मेरे हाँथ के ऊपर अपनी ऊँगली फिरने लगे | मुझे थोडा अजीब सा लगा तो मैंने पढना बंद कर दिया और सर को देखने लगी तो सर ने कहा पढो | तो मैंने फिर से पढना शुरू कर दिया तो सर ने मुझसे से कहा तुम बहुत सुन्दर हो | तो मैंने कुछ नहीं कहा और पढ़ती रही तो सर ने कहाँ चलो आज के लिए इतना ठीक है कल औए अच्छे से प्रैक्टिस करके आना |

मैं घर जा के ये सोच रही थी कि क्या मुझे कल जाना चाहिए ? क्योंकि आज जो हुआ उससे मेरा जाने का मन नहीं हो रहा था लेकिन मैंने सोचा कि शायद मुझे कोई फिल्म करने को मिल जाये तो मेरे लिए अच्छा होगा | तो मैंने रात को खूब प्रैक्टिस की और अगले दिन मैं ऑफिस पहुँच गई | जैसे ही मैं अन्दर गई तो सर ने पूछा कि क्या तुम अच्छे से प्रैक्टिस करके आई हो ? तो मैंने कहा हाँ सर की है | तो सर ने कहा ठीक है चलो शुरू हो जाओ | मैंने सर को परफॉर्म करके दिखाया तो सर ने कहा कि मुझे लगा था तुम और ज्यादा अच्छा करोगी लेकिन तुमने कुछ ज्यादा ख़ास नहीं किया | मैं एकदम शांत थी तो सर ने बोला कि मैं कुछ कर सकता हूँ लेकिन इस पिक्चर में बोल्ड सीन भी हैं, तो मुझे तुम्हें अन्दर से भी देखना होगा और मेरे सामने कॉन्ट्रैक्ट रख दिया और कहा अगर तुम ये कर सकती हो तो मैं इस पर साइन कर दूंगा |

मैंने सोचा कि मुझे यहाँ से चले जाना चाहिए, फिर मुझे लगा कि अगर मैं ऐसे ही सारे ऑफर छोडती रही तो मैं ऐसे कभी काम नहीं कर पाऊँगी | फिर सर ने बोला कि बताओ क्या करना चाहती हो ? तो मैंने कहा ठीक है सर | तो सर ने मुस्कुराते हुए कहा ठीक है उतारो अपने कपडे और वो जाके अपनी कुर्सी पव बैठ गए | मैं खड़ी हो गई और जैसे ही में अपनी टॉप उठाने को हुई तो सर ने कहा रुको, पहले जाके दरवाज़ा बंद कर दो और कुंडी लगा दो | मैंने दरवाज़ा बंद कर दिया और कुंडी लगा दी | फिर आके सर के सामने खड़ी हो गई और अपने टॉप को उतार दिया | मैंने जैसे ही अपना टॉप उतारा तो सर की आँखों में चमक सी आने लग गई |

फिर मैंने अपनी जीन्स का बटन खोला और अपनी जीन्स उतारने लगी | अब मैं सिर्फ ब्रा पैंटी में सर के सामने खड़ी थी और मुझे बहुत शर्म आ रही थी | फिर सर ने मुझे कहा कि चलो ऐसे ही रैम्प वॉक करके दिखाओ | तो मैं कमरे के एक कोने से दुसरे कोने की ओर चलने लगी | फिर सर ने कहा बहुत अच्छे अब अपनी ब्रा उतारो तो मैं सोच में पड़ गई | फिर सर ने कहा क्या सोच रही हो, उतारो | तो मैंने धीरे से अपनी ब्रा उतार दी और अपने हाँथ से अपने दूध छुपाने लगी | तो सर ने कहा हाँथ हटाओ तो मैंने हाँथ हटा दिया | फिर सर ने कहा दूध अच्छे है लेकिन थोड़े और बड़े होने चाहिए | फिर सर ने कहा अब वो भी उतार दो | तो मैंने अपनी पैंटी भी उतार दी तो सर ने कहा वाह क्या चूत है ! कब साफ़ की थी तुमने ? तो मैंने कहा सर कुछ दिन पहले ही | फिर सर ने मुझे अपने पास बुलाया तो मैंने देखा कि सर ने अपना लंड पहले से बाहर निकाला है और उसे हिला रहे है | मैं डर गई लेकिन वहीँ खड़ी रही तो सर ने कहा आओ चुसो इसे | तो मैं फिर भी वहीँ खड़ी थी तो सर ने मेरा हाँथ पकड़ा और मुझे अपनी तरफ खींच लिया और मेरा हाँथ अपने लंड पे रख के हिलाने लगे | सर का लंड बड़ा था और मोटा भी और मैंने ऐसा लंड कभी नहीं देखा था | फिर मैंने सर के लंड के टोपे को चुसना शुरू किया और धीरे धीरे पूरा लंड चूसने लगी | तभी सर ने अपनी पैन्ट उतारी और मुझसे कहा कि मेरी गांड चाटो | फिर मैंने सर की गांड चाटी और उनकी गांड भी एकदम चिकनी थी | फिर सर ने मेरे दूध चूसे और मेरी चूत में ऊँगली करने लगे | मैं अब ज़ोर ज़ोर से सिसकियाँ लेने लगी तो सर ने अपनी ऊँगली मेरी चूत से निकाल के मेरे मुंह में डाल दी | फिर सर ने मुझे अपनी टेबल पे लिटाया और मेरी चूत पर लंड लगा के मुझे चिढाने लगे | मुझसे रहा नहीं गया तो मैंने सर का लंड पकड़ा और अपनी चूत में डाल लिया | तो सर ने कहा बहुत जल्दी है पिक्चर में काम करने की | तो मैंने कहा हाँ है तो और सर की तरफ देखके मुस्कुराने लगी |

फिर सर ने मेरी चूत को चोदना शुरू कर दिया और ज़ोर ज़ोर के झटके मारने लगे | फिर सर ने कहा कि मैं तुम्हारी गांड चेक करना चाहता हूँ और मेरी गांड में ऊँगली करने लगे | फिर सर ने मेरी गांड में लंड डाला तो मेरी तो जैसे जान ही निकल गई | फिर सर मेरी गांड मारने लगे और कहने लगे तुम्हारी गांड तो बहुत टाइट है | फिर सर ने मुझे थोड़ी देर और छोड़ा और अपना सारा माल मेरी गांड में ही गिरा दिया | जैसे ही सर का माल गिरा तो सर मेरे ही ऊपर लेट गए | फिर थोड़ी देर बाद सर ने कॉन्ट्रैक्ट पे साइन कर दिया और मैंने वो फिल्म भी की | मेरे आज भी उनसे अच्छे सम्बन्ध हैं और मैं आज भी उनकी फिल्मों में काम कर रही हूँ और उनसे चुदवाती रहती हूँ |


Comments are closed.


error:

Online porn video at mobile phone


hindi land chut ki kahanisexey storeysex choot commallustoryindian maal ki chudaimuslim ki chootmaine teacher ko chodapunjaban ki chuthindi sex story in trainsex kahani hindi newmoshi ki ladki ko chodamaa beta ki chudai kahaninepali girl ki chudaisex stories of auntyxnxx khanisex story gujratidehati indian sex videohindi bhai behan chudai storybhauja commeri kahani chudaimaa aur beta chudai kahanibhai behan and bap beti ko kis wajah se sex x** videoछोटी सी भूल भागvery sexy chudai storyमाँ रन्डी बानी मेरे जन्मदिन पे सेक्सी ग्रुप स्टोरीजchudai hindi pornchut chudai ki khaniyachudai ki special kahaniland chut chudaimausi ki chudai video hindiporn sex story hindiचलती बस मे सील तोडी पापानेgaram chudaimarathi sex goshtiwww sex kahanimakan malkin ki saheli ki fadakti chut chodi part 2me pyar ki pujaranphati hui chootsaali sexkhuli chut ki photobaap ne apni beti ko chodakavita bhabihindi sex story marathiwww.sexykahnibhbhiboor ko chodaladke ki gaandchudakad biwibur chudai hindi kahanihindi sexual storyचुत जबchote bhai se chudaichachi ko patayabhabhi ko holi par chodarandi khana sexsex new story in hindiboor ki chudai ki storygher ki chudaiindia rewa gav ki ladki shuhagrat video prondesi badi gaandfree sex stories indianchachi ki mast chudaidehati girl photobhabhi dewar ki chodaibap beti ko chodabhabhi k sathread sexy story hindisexy story from hindimaa ki hawasMaa chut ki seva kar ke gand mari porn story hindibade lund se chudai video