गर्लफ्रेंड की दोस्त को कार में चोदा

Dost ki girlfriend ko car me choda:

हाय दोस्तों मेरा नाम है एलेश और मैं आज आपको अपनी सैक्स की कहानी बताने जा रहा हूँ | मैं नॉएडा में रहता हूँ और अमीर घर से हूँ | मैं 5 फीट 9 इंच लम्बा हूँ और थोडा मोटा भी | मेरा रंग गोरा है और देखने में ठीक ठाक ही हूँ | मेरे पापा का बिज़नेस है और मुझे कभी पैसे की कमी नहीं पड़ती शायद यही कारण है लड़कियां मुझसे बहुत ज्यादा चिपकती हैं | ये कहानी मेरे कॉलेज की है जब मेरी फेयरवैल पार्टी थी और मैं घर लौट रहा था |

ये बात है जब मैं लास्ट सेमेस्टर में था और मेरी फेयरवेल पार्टी थी | वैसे एक बात तो बताना ही भूल गया उस वक़्त मेरी एक गर्लफ्रेंड भी थी जिसका नाम था रुपाली और वो दिखने में बहुत ही मस्त थी | मेरे दोस्त मुझसे आए दिन पूछते रहते थे कि इतनी खुबसूरत माल तूने फसाई कैसे ? मैं हर बार उनको यही जवाब देता था कि भाई मेहनत करो सब हो जाता है लेकिन सच तो ये है कि साली मादरचोद वो पैसे के पीछे भागने वाली रंडियों में से एक थी और मैं सिर्फ उसकी चूत मारने के लिए उसको अपने साथ रखता था | उसकी एक सैक्सी सहेली भी थी जो उससे कम सैक्सी थी लेकिन थी तो माल ही |

उसका नाम था तिथि वो भी देखने में एक नंबर लगती थी | उसका रंग ब्राउन था और उसी रंग की नशीली आँखें गुलाबी से होंठ और बड़े बड़े दूध | मैं तो रुपाली से ज्यादा उसको पसंद करने लगा था लेकिन मैं कुछ कर नहीं पता था क्योंकि अगर उसके पीछे जाता तो शायद रुपाली भी छूट जाती और मेरी चूत का बंदोबस्त का काम तमाम हो जाता | इसलिए मैं उसको बस देखकर ही काम चलता लेकिन वो मुझसे बहुत चिपकती थी आखिर थी तो रुपाली की दोस्त ही और गुण उसमें ना आए तो उसकी दोस्त कैसे कहलाती |

तो चलिए अब कहानी पर वापस आते हैं | तो वो दिन था फेयरवैल का और क्लास के सभी लड़के लड़कियां सज धज कर आए हुए थे | रुपाली ने एक ब्लैक कलर की साड़ी पहनी थी और वो बहुत कांटा माल लग रही थी | लेकिन जब उसकी दोस्त तिथि ने एंट्री मारी और सब देखते रह गए | उसने ब्लू कलर की साड़ी पहनी थी और बैकलेस ब्लाउज और आगे से उसकी कमर साफ़ दिखाई दे रही थी | माँ कसम बहनचोद उसको देखकर तो मेरे दिल में आग ही लग गई थी |

मैं खड़े होकर तिथि को देख रहा था तभी रुपाली मेरे पास आई और उसने मुझसे पूछा कैसे लग रही हूँ | तो मैंने मजाक में उससे कह दिया बिलकुल बैटमैन तो वो गुस्सा होकर चली गई | अब मैं उसको मनाने में लगा हुआ था तभी तिथि मेरे पास आई और कहा अच्छे लग रहे हो एलेश तो मैंने भी उसको कह दिया तुम भी बहुत अच्छी लग रही हो | तो यह सुनकर रुपाली वहां से उठकर चली गई | फिर मैं और तिथि वहां बैठे थे और मैंने उसको सारी बात बताई तो उसने कहा जाने दो उसको तुम्हारे पास बहुत से ऑप्शन हैं |

फिर पार्टी शुरू हुई और बहुत कुछ हुआ फिर हमारे डांस करने की बारी आई और मैंने रुपाली की ओर हाँथ बढ़ा कर कहा चलो डांस करते हैं | उसने कुछ नहीं कहा और अब मुझे गुस्सा आने लगा तो तिथि उसके बाजू में बैठी थी तो मैंने उससे कहा चलो डांस करते हैं और वो मेरा साथ चली गई | हम दोनों स्टेज पर डांस कर रहे थे मैं तिथि की कमर पर एक हाँथ रखा और दूसरा उसकी पीठ पर और बहुत करीब आकर डांस कर रहा था | डांस करते करते मैं रुपाली की तरफ देख रहा था और जैसे ही मैं उसको देखता वो अपना मुंह घुमा लेती थी | मुझे उसको जलने में बहुत मज़ा आ रहा था लेकिन उससे ज्यादा मज़ा तिथि की कमर को पकड़ने में आ रहा था |

फिर हम डांस करके वापस आए और आके साथ बैठ गए | फिर थोड़ी देर बाद पार्टी ख़त्म हुई और सब साथ फोटो खिंचा रहे थे तभी रुपाली आई और मुझे और तिथि को पकड़ कर अपने साथ लेकर गई | उसने मुझसे पूछा क्या चल रहा ये सब ? तो मैंने कहा क्या चल रहा है ? उसने कहा क्या मुझे कुछ समझ में नहीं आता जो तुम दोनों कर रहे थे ? तो मैंने कहा मैंने ऐसा कुछ नहीं किया है उसके साथ और तुम्हारी प्रॉब्लम क्या है ? किस बात पे गुस्सा हो ? उसने कहा अच्छा इतना चिपक कर नाच रहे थे और मैं गुस्सा ना होऊं | उसने तिथि से कहा मुझे तुमसे ये उम्मीद नहीं थी |

तो तिथि भी अब गुस्से में आ चुकी थी और उसने अब रुपाली के ऊपर चढ़ाई करना शुरू कर दी | उसने कहा मुझे कुछ मत बोल मैंने कुछ नहीं किया है और मैं सब जानती हूँ तू इसके साथ क्यों है सिर्फ पैसों के लिए और बाहर कितने लड़कों को चला रहा है बताऊँ क्या ? मैंने कहा क्या तुम मुझे बताओ तिथि | तो तिथि ने मुझे उसके सामने सब कुछ बताया और मैंने उसी वक़्त रुपाली से कहा जाओ तुम अपनी माँ चुदाओ और वहां से तिथि को लेकर चला गया |

अब मेरा दिमाग ख़राब हो चुका था और मैं जाने लगा तो तिथि ने मुझसे कहा क्या तुम मुझे घर छोड़ सकते हो ? तो मैंने कहा ठीक है और हम दोनों निकल गए | हम घर ही जा रहे थे तभी तिथि ने मुझसे कहा आई लव यू एलेश तो मैंने साइड में कार रोक दी और बात करने लगा | मैंने उससे कहा मैं अब किसी पे भरोसा नहीं करता तो उसने प्यार से मुझे किस किया और कहा मुझपे कर सकते हो | मैं मान गया और मैंने कहा चलो अब कहीं घुमने चलते है मैंने गाड़ी घुमाई और हम एक लम्बे सफ़र पर निकल गए |

मैंने एक सुनसान रास्ते पे गाड़ी रोकी और कहा मुझे तुमसे एक फेवर चाहिए तो उसने कहा मैं तुम्हारे लिए कुछ भी कर सकती हूँ तो मैंने ठीक है चलो बैकसीट पर और हम पीछे आ गए | हमने किस करना शुरू किया और एक दुसरे से लिपट कर किस करने लगे | मैं समझ गया था लड़की तैयार बस आगे बढने की देरी है तो मैंने उसके पीछे हाँथ डाला और पिच्छे से उसके ब्लाउज की लेस खोल दी | वो रुक गई और मुझे देखने लगी तो मैंने फिर से उसे किस करना शुरू कर दिया और धीरे धीरे उसका ब्लाउज उतारने लगा | उसने ब्रा नहीं पहना था इसलिए मुझे सीधे उसके दूध दिखे और मैं उसके दूध दबाना शुरू कर दिए |

फिर मैंने उसके दूध को चुसना शुरू कर दिया और वो सिर पर हाँथ फिराने लगी | तिथि के दूध रुपाली से बड़े थे और इनको दबाने में भी ज्यादा मज़ा आ रहा था | फिर मैंने उसकी साड़ी उतारनी चाही तो उसने कहा उतारो मत ऊपर करके कर लो | तो मैंने उसकी साड़ी और पेटीकोट उठा दिया और उसकी पैंटी उतार दी | उसकी चूत एकदम चिकनी और साफ़ थी और ये देखकर तो मैं जैसे पागल सा हो गया और लपक के उसकी चूत चाटने लगा | उसी चूत थोड़ी सी काली थी लेकिन उस वक़्त मैं ये सब नहीं सोच रहा था और उसकी चूत को हव्सियों की तरह चाट रहा था और वो आह्ह्हह्ह्ह्हह्ह आअह्ह्ह्ह ऊउह्ह्ह्ह ह्ह्ह्हह्ह्ह्ह कर रही थी |

फिर मैंने अपनी पैंट खोल कर नीचे की और उसने मेरा लंड चुसना शुरू कर दिया | मुझे तो बहुत मज़ा आ रहा था और मैं बैठे बैठे उसके दूध दबा रहा था | फिर मुझे लगा अब मेरा लंड पूरी तरह से जंग के लिए तैयार है तो मैंने उससे कहा चलो उठ जाओ और वो पीछे होकर खिड़की से टिक कर बैठ गई | फिर मैंने उसके पैर पकड़कर उसको अपनी तरफ खींचा और उसके साड़ी उठा कर उसकी चूत में अपना लंड डालने लगा | लंड अन्दर नहीं जा रहा था तो मैंने एक ज़ोरदार झटका मारा तो मेरा लंड थोडा सा अन्दर चला गया और वो दर्द से मचलने लगी तो मैंने उसको किस करना शुरू कर दिया और उसकी चूत में धीरे धीरे लंड आगे पीछे करने लगा |

मुझे समझ में आ रहा था कि उसको बहुत दर्द हो रहा है लेकिन मेरे अन्दर तो चुदाई का भूत सवार था इसलिए मैं धीरे धीरे आगे पीछे करने में लगा रहा और थोड़ी देर में उसका दर्द भी कम हो गया | फिर वो थोडा सा और लेट गई और मैं उसके ऊपर चढ़के जोर जोर से उसको चोदने लगा | अब मुझे उसको चोदने में मज़ा आ रहा था और उसको चुदने में तभी मुझे लगा कि निकलने वाला है तो मैंने लंड बाहर निकाला और उसके ऊपर लंड हिलाने लगा | फिर मेरा मुट्ठ निकला और उसके पेट और दूध पर जा गिरा | उसने अपने रुमाल से मुट्ठ को पोंछ लिया और मैं उसके ऊपर लेट गया और किस करता रहा | अब तिथि मेरी गर्लफ्रेंड बन चुकी थी और हमने चुदाई कुछ फोटो भी खींचे और अगले दिन रुपाली को दिखाए और उसकी झांटे जलाई | दोस्तों मेरी इस कहानी पर अपनी राय जरुर दीजियेगा |


Comments are closed.


error:

Online porn video at mobile phone


maa ke sath sambhogdesi gharelu chudaigaand me dandashadi ki pehli raat ki kahanihindui.sexbhabhidotcomsavita bhabhi hindi kahanigaand maara baap kahnixxx sugarat ma gand chodai kahanisexy chut chudai kahanimaa or beta ki chudai ki kahanichudai behan bhaisundar chut ka photochut lund new storymom ki chudai sex storysexy story of marathihot kathalumaa bete ki shadibhabhi ki chudai ki hindi kahaniमाँ की चूत में लंडsex story sasurDesihindi.stori.booksexychodai karogaand marna videopahli bar sexmadam ko choda kahaninew hindi sex kathaBahnawari bibi ka kis tarh aata hai Sexi video sabse badi burgand ki chudai storyneelam ki chudaipatient ki chudaimaa ki chudai hindi me kahanisexy story in hindi writingभाभि को उसके बच्चों के सामने चोदा कहाणीrandi bhabhi chudaimaa ki badi gandchudaichutlandfilmjabardasti indian sexsavita bhabhi ki chodaichachi ki antarvasnadoodh chusnagher ki chudaibhai bahan chudai story hindimaa xossipsali ki chudai jija ne kipapa ka dosto na chodabhavi sexsexy bhabhi kahaniantarvasna 2014suhaag raat sexमोठे लुंड से छोटी चुते की ज़बरदस्ती चुदाई की हिंदी कहानियांhindi bahan chudai storyhindi sxy khaniyamast bhabhi chutरोजाना अपडेट हिन्दी देसी सैक्स कहानिया साईट damad ki chudaido chachi ki chudaikamukta horny incest story'in hindinew hindi chudai kahaniantarvasna com hindi meभाभी छुट्टी मनाने गई आई देवर से chudaichut ki chudai hindi storybhabhi ki chuchisuhagrat hot picgand maraisex storis comमेरे स्तन पीता है मेरा पड़ोसीchut land mesex ki khaniyacomputer teacher ki chudaibahan ko chodne ki kahaniantarvasna com chachi ki chudai