आंटी और उसकी बेटी की चुदाई

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम यश है। ये जो स्टोरी में आप लोगों के साथ शेयर कर रहा हूँ वो मेरी और मेरी पड़ोसी आंटी के बीच की है। उनका नाम अनिता है और उनकी उम्र 37 साल है, उनका फिगर साईज 34-30-36 और उनकी बेटी का नाम प्रियंका है। उसकी उम्र 19 साल और उसका फिगर साईज 30-28-32 है। ये अप्रेल की बात है, में भुवनेश्वर में एक किराये के घर में रहकर बी.टेक कर रहा था, उस बिल्डिंग में और मेरे जैसे और भी बहुत सारे लोग रहते थे। मेरा एक सिंगल रूम था क्योंकि में अकेला रहता था। अप्रेल महीना गर्मी का मौसम है इसीलिए में छत के ऊपर सोया करता था। छत के ऊपर दो बाथरूम थे, उनमें से एक बाथरूम मुझे मिला हुआ था और एक अनिता आंटी को मिला हुआ था।

एक दिन में छत पर सोया हुआ था, लेकिन मुझे नींद नहीं आ रहा थी तो में मेरे मोबाइल में ब्लू फिल्म देख रहा था। तब मुझे किसी की पायल की आवाज़ आई, तो मैंने मोबाईल को उल्टा करके रख दिया जिससे की किसी को शक़ ना हो कि मोबाईल चालू है और में सोने का नाटक करके देखता रहा कि कौन आ रही है। वो और कोई नहीं बल्कि अनिता आंटी थी और में चुपके से देखता रहा कि वो क्या कर रही है? लेकिन वो तो मेरे नीचे देख रही थी। फिर मैंने सोचा कि वो क्या देख रही होगी? मुझे मालूम पड़ा कि वो मेरे लंड को देख रही थी जो कि फिल्म देखने की वजह खड़ा हुआ था और वो उसको देखकर पेशाब करने बाथरूम की तरफ चली गयी। मैंने सोने का नाटक करते हुए लंड को बाहर निकाल दिया। जब वो पेशाब करके वापस बाहर आई तब वो फिर से मेरे लंड को देख रही थी, लेकिन इस बार तो वो मेरे पास आकर बैठकर मेरे लंड को देखने लगी और धीरे-धीरे सहलाने लगी। में तो चौंक गया था और फिर मैंने सोचा कि इस रंडी को आज अभी यहीं चोद लूँ इसीलिए उसको रंगे हाथ पकड़ना है और में आँख खोलकर बैठ गया, तब वो कांप उठी और फिर में बोला कि..

में : आंटी आप रात को 1 बजे मेरे पास क्या कर रही हो?

आंटी : कुछ नहीं टायलेट करने के लिए आई थी और देख रही थी कि कौन सो रहा है।

में : ओह तो आपका हाथ किधर था।

आंटी : (थोड़ा डर के मारे) किधर भी नहीं, बस यूँ ही इधर उधर हो रहा था।

में : इधर उधर मतलब?

आंटी : छोड़ो मुझे नींद आ रही है। अब में चलती हूँ, उधर प्रियंका अकेली सोई है।

और आंटी उठने लगी तो मैंने आंटी का हाथ पकड़ लिया और बोला।

में : मेरी जिस चीज़ को आपने जगाया है उसको कौन सुलायेगा।

आंटी : मैंने किस चीज़ को जगाया?

तब में उनके सिर को पकड़कर मेरे लंड के पास ले आया और बोला कि इसको तुमने जगाया है अब इसे शांत करो। तो वो थोड़ी घबरा गयी और बोली कि ये ठीक नहीं है, तब में उनके बूब्स और चूत को उनकी साड़ी के ऊपर से दबाने लगा और मजा करने लगा और उनको नीचे लेटाकर उनको लिप किस करने लगा। फिर वो भी मेरा साथ देने लगी तो में समझ गया कि ये चुदवाने के लिए राज़ी है, तब मैंने उनको छोड़ दिया। तो वो मुझसे बोली कि क्यों मज़ा नहीं आया? प्लीज़ मुझे अपनी रंडी बनाकर चोद डालो, तब मैंने उनसे पूछा कि अंकल आपको नहीं चोदते क्या?

आंटी : (उदास होकर) अंकल ठीक से नहीं चोदते थे इसीलिए में मेरे एक फ्रेंड्स से चुदवाती थी, लेकिन जब उनको पता चल गया तो वो मुझे छोड़कर चले गए। अब मेरा एक फ्रेंड (मनोज) ही मुझे चोदता है। तब मैंने आइडिया लगाया कि जो लड़का इनके घर पर रोज खाने के टाईम पर आता है वो ही मनोज है और वो ही इसे चोदता है। फिर मैंने उठकर छत के दरवाजे की कुण्डी लगा ली और उनके पास आकर बैठ गया और फिर हमारा सेक्स शुरू हुआ। फिर मैंने उनके ब्लाउज को निकाला और फिर साड़ी और पेटीकोट निकाल दिया। अब वो मेरे सामने ब्रा और पेंटी में ही थी और में उनको पूरा नंगा कर चुका था।

अब में उनकी बॉडी को अच्छी तरह से नहीं देख पा रहा था और सिर्फ़ थोड़ा-थोड़ा देख पाता था क्योंकि वहां अंधेरा था और सिर्फ़ महसूस करता था। सच बताऊँ यारों क्या मक्खन जैसे बूब्स थे? जैसे ही मैंने ब्रा को निकाला तो मुझे लगा कि मक्खन के दो पीस लगे हुए है। फिर मैंने उनकी पेंटी उतारी और चूत को टच किया, तो बिल्कुल शेव चूत थी और गीली भी थी। मैंने फिर गांड को दबाया तो मुझे लगा जैसे कि में गुब्बारे को पकड़ा हो, मतलब आंटी अपनी हर चीज़ का बहुत ख्याल रखती थी। फिर हम दोनों 69 पोजिशन में आ गये। जब वो मेरे लंड को मुँह में लेती, तो वो बोली कि ये तो 8 इंच का होगा, कितना बड़ा है और मोटा भी है। तो मैंने अंकल और मनोज का साईज़ पूछा तो वो बोली अंकल का 5 इंच का होगा और मनोज का 7 इंच का है, लेकिन तुम्हारा तो इतना बड़ा है कि मुझे चुदवाने में मज़ा आयेगा और हम दोनों चुसाई करने लगे और एक साथ ही एक दूसरे के मुँह में झड़ गये।

फिर वो बोली कि अब अपना लंड मेरी चूत में डालो। फिर मैंने उनके पेरों को फैलाकर उनकी चूत में मेरा लंड रगड़ने लगा और फिर लंड घुसा डाला तो वो अहह उईईईईईईईईईआआअ की आवाज़ करके बोली कि धीरे-धीरे करो। फिर मैंने देखा तो मेरा लंड 6 इंच ही चूत के अंदर गया था और 2 इंच बाहर था, तो मैंने एक ज़ोर का झटका लगाया और पूरा लंड अंदर डाल दिया और करीब 20 मिनट तक उसको अलग-अलग स्टाइल में चोदता रहा, तब तक वो एक बार झड़ चुकी थी। फिर हम दोनों एक बार फिर झड़ गये। तब 2 बज गये थे तो वो बोली कि शायद प्रियंका जग गयी होगी और में चलती हूँ। फिर वो अपने कपड़े पहनकर चली गयी और में कपड़े पहनकर सो गया। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

फिर सुबह 8 बजे जब में उठकर फ्रेश होकर कॉलेज के लिए निकला तो वो मेरे कमरे में आई जो कि उनके रूम के सामने है और बोली कि आज 4 बजे दिन में चुदाई करते है, क्योंकि उसकी बेटी कॉलेज चली गयी और मनोज 7 दिन से बाहर है और 20 दिन के बाद आयेगा। फिर में उसकी चुदाई करने के लिए रुक गया और उसने मुझे अपने घर में बुलाकर चुदाई करवाई और करीब 4 बार हमने चुदाई की। इसके बीच में उसने खाना पकाया और मुझे भी खिलाया, लेकिन दरवाजे पर हम में से किसी का ध्यान नहीं था, वो तो अनलॉक था और हम लोग अन्दर नंगे थे, क्योंकि जब किसी का भी मन करता तो हमारी चुदाई शुरू हो जाती। उस दिन प्रियंका भी 2 बजे कॉलेज से आकर दरवाजे पर खड़ी थी और दरवाजा अनलॉक होने की वजह से वो सीधा अन्दर घुस गयी। तब में और अनिता आंटी यानि उसकी माँ सेक्स कर रहे थे। हम लोग 69 पोजिशन से निकल चुके थे और अनिता ने अपने पैर फैलाकर मेरे लंड को चूत के दरवाजे पर लगा रखा था और जैसे ही मैंने धक्का मारा तो प्रियंका ने आवाज़ लगाई।

प्रियंका : माँ ये क्या हो रहा है?

अनिता आंटी : (डर के मारे) कुछ नहीं बेटा।

प्रियंका : यश भैया अब तो निकालो। (क्योंकि तब तक मेरा लंड अनिता आंटी की चूत में था और पास में छुपाने के लिए कुछ भी नहीं था)

फिर मैंने मेरा लंड बाहर निकाला तो मेरा लंड और उसकी माँ की चूत से पानी टपक रहा था, जिसे देखकर प्रियंका बोली कि..

प्रियंका : में जानती हूँ माँ कि पापा के जाने के बाद आप ये सब मनोज अंकल के साथ करती हो, लेकिन अब और किसी के साथ भी करने लगी हो, ये अच्छा नहीं है माँ। में अभी मनोज अंकल को आपके नंबर से मैसेज करके बता दूँगी।

अनिता : ऐसा मत कर, तेरे पापा तो मुझे संतुष्ट कर नहीं पाते थे इसीलिए मैंने मनोज का सहारा लिया और इसलिए तेरे पापा भाग गये और 7 दिन से मनोज आउट ऑफ स्टेशन है और 20 दिन के बाद वो आयेगा, वैसे भी यश का लंड सबसे बड़ा और सेक्स पॉवर भी अच्छा है इसीलिए में कंट्रोल नहीं कर पाई। तब तक हम दोनों प्रियंका के सामने नंगे खड़े थे। फ़िर प्रियंका ने कुछ देर सोचा और उस समय मैंने गोर किया कि वो अपने हाथ को अपनी ड्रेस के ऊपर से उसकी चूत को दबाकर बोली कि..

प्रियंका : ठीक है, में उन्हें नहीं बताउंगी, लेकिन मेरी एक शर्त है।

अनिता आंटी : क्या शर्त है बेटी?

प्रियंका : मुझे भी यश भैया के लंड को इन्जॉय करने को मिलेगा।

अनिता आंटी : (मुझे प्रियंका के पास धक्का देते हुए) ले संभाल इस 8 इंच के लंड को।

में : प्रियंका क्या तुम वर्जिन हो?

प्रियंका : हाँ।

में : तो बहुत मज़ा आयेगा।

फिर प्रियंका ने मेरे लंड को हाथ में पकड़ा और फिर मैंने उसको एक ज़बरदस्त लिप किस किया। तब अनिता आंटी मेरी गांड के होल को चूस रही थी। फिर 5 मिनट तक लिप किस करने के बाद मैंने प्रियंका की जीन्स और टी-शर्ट ऊतार दी। मुझे ऐसा लगा कि जैसे दो ओंरेंज को पकड़कर किसी ने ब्रा के अंदर क़ैद कर दिया है। फिर मैंने प्रियंका की ब्रा को खोलकर उसके बूब्स को दबाया और सक किया। फिर मैंने उसकी पेंटी को उतार दिया। यार उसकी क्या चूत थी? जैसे कि उसकी चूत के जंगल के अंदर से कोई नदी जा रही है। फिर मैंने पूछा कि कभी चूत शेव नहीं की है क्या? तो वो बोली नहीं, फिर मैंने उसकी गांड को टच किया और मज़ा लेता रहा। फिर हम दोनों 69 पोजिशन में आ गये और 10 मिनट में ही एक दूसरे के मुँह पर झड़ गये। फिर वो बोली कि अब तो चुदाई करते है और फिर उसने अपने पैरों को फैला दिया। अब उसकी माँ ने मेरे लंड पर क्रीम लगाई और फिर उसकी चूत पर क्रीम लगा दी और मेरे लंड को उसकी चूत के दरवाजे पर रख दिया। फिर मैंने धक्का दिया तो मेरा लंड फिसलकर बाहर निकल गया और फिर दो बार ट्राई किया तो मेरा लंड 3 इंच अंदर चला गया। फिर प्रियंका दर्द के मारे रोने लगी। तब मैंने अनिता आंटी से बोला कि तुम्हारी बेटी के मुँह में अपनी चूत डालो, फिर में धक्का देता हूँ ताकि उसकी चीख बाहर तक सुनाई ना दे।

फिर अनिता आंटी ने बिल्कुल वैसा किया और मुझे उसकी चूत में मेरा पूरा 8 इंच का लंड डालने में 10 मिनट लगे। फिर में लंड को अंदर बाहर करके उसको चोदता रहा और वो भी मेरा साथ देती रही उहह अह मूऊऊऊऊऊऊ मर गई, क्या मज़ा आ रहा है? और ज़ोर से और ज़ोर से, फिर में 30 मिनट में उसकी चूत में झड़ गया और तब तक वो 3 बार झड़ चुकी थी। फिर हम सबने नाश्ता किया और फिर हम तीनों ने एक नया घर देखकर उस घर में शिफ्ट हो गये और उधर हम सब घर में नंगे ही रहते है और खूब चुदाई करते है ।।

धन्यवाद …


Comments are closed.



Online porn video at mobile phone


balatkar sexjamkar chodarandi ki choot ka photohindi chudai ki mast kahaniyawww savita bhabhi ki chudai comप्यारी बहना की पलंग तोड़ चुदाई भाग १xxx kahani newnew hindi saxgandi kahaniya chudai kigay ki chudai kahaniमोबाईल का बदले चुतsexy sasurभारतीय कर की चाचा और चाची की xnxx फोटोdesi hindi bade bade chuchi waali hindi kaamuk sex storyhindesexibahan ki jawanisasur bahu ki chudai ki storynewsex story hindichut ki sachi kahanihindi sexy desi kahaniyabhabhi se chudaidesi nokraniचुची12सालhindi ladki ki chudaibahan ne chodna sikhayaIncest Yum Stories. Bahano ki adla badliNE chudi16sal me istoriwww nani ki chudai comहिन्दी मौसी की चुत मारी रात मैंझवाझवी मराठी कथा निशाpapa beti ki chudai storysali aur saas ki chudaiसेक्सी कविता कुंवारी लड़की कीnangi moti gandgirlfriend ko zabardasti chodaMaa aur bahen ko pata ke choda kahani 2019Kichut mastanibhai ka lundओपिस जानेके बहाने चोदना कडकkahani chut kipunjabi girl ki chudai ki kahanihindi chudai story newwww bhabhiki chudai comhindi kahani chut ki chudaiहांट मंगलसुत्र वाली भाभी बातरुम मेaunty ki choot maarimast kahani chudai kihindisex historychoot ka maalsexy kahani bhai behan kichudai ki aawajchoot chatolatest indian chudai petee me babhi ke xxx photoanamika ki chudaidi ki chudaikamvasna hindi story pictureskunwari dulhanhindi antrwasna comladki chudai hindichoot marilatest indian sex storiesadivasi chudaiदुधवालेका महिलाको चोदनेका व्हिडीओgaand mesaans ki chudaiantarvasna ki storybhabhi ki kamarsex new story in hindimaa ki chudai ki new kahanichudai ki story in hindi fonthindi sexi kathaaunty ki chudai real storychuchi ka dudh piyamami kichut chudai ki kahani in hindi